• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • बड़ी खबर : पूर्वी चंपारण में RTI कार्यकर्ता की हत्या, जमीन माफियाओं की खोलने वाले थे पोल!

बड़ी खबर : पूर्वी चंपारण में RTI कार्यकर्ता की हत्या, जमीन माफियाओं की खोलने वाले थे पोल!

आरटीआई कार्यकर्ता की हत्या के बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है.

आरटीआई कार्यकर्ता की हत्या के बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है.

Murder of RTI Activist : बिहार के जिस चंपारण की धरती से महात्मा गांधी ने सत्याग्रह आंदोलन की शुरुआत की थी, उसी जिले में कई सफेदपोशों सहित अधिकारियों के भ्रष्टाचार की पोल खोलने वाले एक आरटीआई कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गयी.

  • Share this:

पूर्वी चंपारण. एक बार फिर से बिहार में अपराधी बेखौफ हो गए हैं और दिनदहाड़े हत्या की वरदातों को अंजाम दे रहे हैं. तभी तो बिहार के जिस चंपारण की धरती से महात्मा गांधी ने सत्याग्रह आंदोलन की शुरुआत की थी, उसी जिले में कई सफेदपोशों सहित अधिकारियों के भ्रष्टाचार की पोल खोलने वाले एक आरटीआई कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को बाइक सवार अज्ञात अपराधियों ने कानून को ठेंगा दिखाते हुये हरसिद्धि प्रखण्ड कार्यालय के मेन गेट पर आरटीआई कार्यकर्ता बिपिन अग्रवाल को दो गोली मारी, जिसके बाद वह बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़े. पेट और पीठ में गोली लगने के बाद बिपिन को आननफानन में इलाज के लिए सदर अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गयी.
सैंकड़ों लोगों के बीच घटना को दिया गया अंजाम
पूर्वी चम्पारण में अपराध और अपराधियों के गोलियों की तड़तड़ाहट थमने का नाम नहीं ले रही है. अपराधी हर दिन किसी न किसी बड़ी घटना को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस मूकदर्शक बनी तमाशा देख रही है. तभी तो आज अज्ञात अपराधियों ने दिनदहाड़े हरसिद्धि प्रखण्ड कार्यालय के मेन गेट पर एक आरटीआई कार्यकर्ता की गोली मार नृसंश हत्या कर दी और वो भी ऐसी जगह जहां सैंकड़ों लोगों की भीड़ रहती है और पुलिस भी पेट्रोलिंग करती है. यहां कई अधिकारी और पुलिस पदाधिकारियों का भी आना-जाना लगा रहता है. लेकिन, फिर भी पुलिस वारदात पर रोक नहीं लगा पाती है और न ही अपराधियों को गिरफ्तार कर पाती है.
बड़े मामले को करने वाले थे उजागर
लोग घटना एक राजनीतिक हत्या करार दे रहे हैं. मिली जानकरी के अनुसार दरअसल बिपिन अग्रवाल किसी बड़े मामले का खुलासा करने वाले थे. उन्होंने पहले भी कई सफेदपोशों सहित कई अधिकारियों के भ्रष्टाचार की पोल खोली थी. सदर अस्पताल पहुंचे मृतक बिपिन अग्रवाल के पिता विनोद कुमार अग्रवाल ने कहा कि बिपिन सरकारी जमीन पर अवैध रुप से कब्जा करने के मामलों का खुलासा किया करते थे, जिस कारण कई नेताओं और अधिकारियों की मिलीभगत की पोल खुली है. इसी कारण पिछले दिनों जमीन माफियाओं ने उनके घर पर हमलाकर पूरे परिवार के साथ बदसलूकी भी की थी. फिर भी बिपिन सच सामने लाने का काम करते रहें जिसके बाद आज उनकी हत्या करा दी गयी.

वहीं मौके पर पहूंचे हरसिद्धि के थानाध्यक्ष ज्यादा बोलने से बचते हुए कहा कि अपराधियों ने बिपिन अग्रवाल को दो गोली मारी, जिससे उनकी मौत हो गयी है. इधर अरेराज के एएसपी अभिनव धिमन ने हरसिद्धि पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी है. घटना स्थल से दो खोखे बरामद किये गये हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज