मोतिहारी में दवा व्यवसायी के पुत्र की हत्या, 10 लाख रुपये के लिये हुआ था अपहरण

प्रिंस की हत्या करने के बाद शव को बोरे में बन्द कर खंडहर में छिपा दिया गया था. हत्या करने के बाद प्रिंस के परिजनों को मोबाइल पर फोन कर दस लाख रुपये फिरौती की मांग की गई थी. मोबाइल नम्बर के सहारे पुलिस नें अपराधियों को गिरफ्तार किया.

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 14, 2018, 12:07 PM IST
मोतिहारी में दवा व्यवसायी के पुत्र की हत्या, 10 लाख रुपये के लिये हुआ था अपहरण
मृतक बच्चा
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 14, 2018, 12:07 PM IST
बिहार के मोतिहारी में अपराधियों ने फिरौती न मिलने पर दवा व्यवसायी के बेटे की बेरहमी से हत्या कर दी. बच्चे को 10 लाख की फिरौती के लिये अगवा किया गया था जिसके बाद उसका शव मिला. अगवा हुआ बच्चा जिले के एक बड़े दवा कारोबारी का पुत्र था. अपहर्ताओं ने फिरौती के लिए परिजनों से 10 लाख रुपये की मांग की थी.

इस मामले में मंगलवार की सुबह परिजनों ने घटना की एफआईआर दर्ज करा दी है. घटना पूर्वी चंपारण के डुमरियाघाट स्थित रामपुर खजुरिया की है. बच्‍चे के पिता के मोबाइल पर अज्ञात नंबर से अपहरण की सूचना देते हुए फिरौती के रूप में 10 लाख रुपये की मांग की गई और शिकायत करने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी थी.

इस दौरान बुधवार को अपहृत मासूम का शव बोरे में बन्द मिला है. पुलिस ने शव को खंडहरनुमा स्कूल भवन से बरामद किया. जानकारी के मुताबिक मैदान में खेलने के दौरान स्कूल संचालक के पुत्र ने सात वर्षीय प्रिंस का अपहरण कर लिया था और बेरहमी से बैट (क्रिकेट बल्ला) से पीट-पीट हत्या कर दी.

प्रिंस की हत्या करने के बाद शव को बोरे में बन्द कर खंडहर में छिपा दिया गया था. हत्या करने के बाद प्रिंस के परिजनों को मोबाइल पर फोन कर दस लाख रुपये फिरौती की मांग की गई थी. मोबाइल नम्बर के सहारे पुलिस नें अपराधियों को गिरफ्तार किया जिसके बाद हत्या के मामले का परत दर परत खुलासा हुआ.

घटना सोमवार की संध्या घटी थी जिसके बाद हरकत में आयी पुलिस अपराधियों तक कल मंगलवार तक पहुंच सकी और फिर देर रात शव को बरामद किया गया. घटना में शामिल स्कूल संचालक सहित तीन अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. घटना को अंजाम देने में सीवान के भी अपराधी शामिल थे जिनकी तलाश पुलिस कर रही है.

मोतिहारी से मुकेश कुमार की रिपोर्ट
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->