गलवान घाटी में शहादत देने वाले जवानों के परिजनों का बिहार रेजिमेंट के अधिकारियों ने किया सम्मान

गलवान घाटी में शहीदों के परिजनों का सम्मान करते सेना के अधिकारी.
गलवान घाटी में शहीदों के परिजनों का सम्मान करते सेना के अधिकारी.

गलवान घाटी( Galvan Valley) में शहीद हुये बिहार (Bihar) के जवानों के परिजनों का बिहार रेजिमेंट (Bihar Regiment) ने सम्मान किया. साथ ही वीर जवानों के बलिदान को याद करते हुए उन्हें भारत माता के सच्चे सपूत बताया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 27, 2020, 3:34 PM IST
  • Share this:
दानापुर. गलवान घाटी (Galvan Valley) में चीनी सैनिकों (Chinese Soldiers) की साथ हुई झड़प में शहीद होने वाले बिहार रेजिमेंट (Bihar Regiment) के जवानों के सम्मान के लिए आज एक समारोह आयोजित किया गया. यह समारोह मुख्यालय झारखण्ड-बिहार सब एरिया के तत्वावधान में आयोजित हुआ. दानापुर स्थित बिहार रेजिमेंट सेंटर में यह सम्मान समारोह 70वें पैदल सेना दिवस के उपलक्ष में आयोजित किया गया.

इस सम्मान समारोह में 16 बिहार रेजिमेंट के सभी 12 गलवान के वीर शहीदों के उत्तराधिकारी और आश्रितों को पहली बार एक मंच पर शामिल किया गया. साथ ही 16 बिहार रेजिमेंट के शहिद कमाडिंग ऑफिसर कर्नल बी संतोष बाबू की पत्नी भी शामिल थीं. इस सम्मान समारोह की शुरुआत वीर शहिदों के उत्तराधिकारी को बिहार रेजिमेंट के बिग्रेडियर आलोक खुराना के द्वारा वीर स्मृति में वीर योद्धाओं को श्रद्धांजलि देने के साथ हुई. इसके बाद अखौडा ऑडिटोरियम में वीर नारियो को सम्मानित किया गया. इस अवसर पर अखौडा ऑडिटोरियम के सम्मान समारोह में सेना के मुख्य और सीनियर अधिकारी मौजूद रहे.

VIDEO: जब.. नीतीश कुमार ने 8-9 बच्चे पैदा करने वाला बयान देकर लालू परिवार पर किया हमला



इस कार्यक्रम में  युद्ध सेवा मेड्ल, जनरल ऑफिसर कमांडिंग, मुख्यालय झारखंड एवं बिहार सब-एरिया मेजर जनरल राजपाल पुनिया मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे. इस समारोह के प्रारम्भ में सभी वीर शहीदों के उत्तराधिकारियों का स्वागत किया गया. तत्पशचात ब्रिगेडियर आलोक खुराना, समादेष्टा बिहार रेजिमेंट केंद्र ने सभी वीर शहीदों के उत्तराधिकारियों को सम्मानित किया. इस विशेष सम्मान समारोह के समापन में मुख्य अतिथि मेजर जनरल राजपाल पुनिया ने सभी को संबोधित किया.
वीर शहिदों की वीरता का किया बखान
उन्होंने गलवान के बलवान वीर शहिदों के वीरता और पराक्रम का गुणगान करते हुये कहा कि गलवान के शहीदों की कुर्बानी व्यर्थ नहीं जाएगी. चाइना आज बैक फुट पर है आगे भी बैकफुट पर रहेगा शहीदों ने शहादत दी है वह व्यर्थ नहीं जाएगी. मैं देश को भरोसा दिलाता हूं और देशवासियों से गुजारिश करता हूं जिस जिस प्रांत से हमारे शहीद हुए हैं उनको भुलाए नहीं उनको याद रखें. उन्होंने देश के भविष्य के लिए अपनी कुर्बानी दी है. ब्रिगेडियर आलोक खुराना, बीआरसी कमाण्डेन्ट ने बताया कि जो गलवान में शहीद हुए थे उनकी पूरी फैमिली यहां मौजूद है. आज हमें मौका मिला है जब इन्फेंट्री डे के अवसर पर यहां सारे लोग उपस्थित हैं. इस लड़ाई के 4 महीने बीत चुके हैं.

Bihar Election: 'बाबू साहेब' वाले बयान को लेकर डैमेज कंट्रोल में जुटे तेजस्वी यादव, दी यह सफाई

इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य यह पता करना था कि शहीदोंं के परिजनों को मिलने वाली सहायता मिली या नहीं. गलवान में शहीद हुए कर्नल बी संतोष बाबु की पत्नी बी संतोषी ने बताया की उस दिन गलवान घाटी में जो लोग शहीद हुए सारे शहीदों ने देश के लिए अच्छा काम किया है. हम सबों को पता है कि परिवार के लिए दुख की बात है, लेकिन खुशी भी है कि सारे लोग भारत मां की रक्षा के लिए अपनी जान दी है. गलवान के शहीदों के लिए इस सम्मान समारोह में पहुंचे शहीदों के आश्रितों ने अपने-अपने वीर सपूतों और पति को याद किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज