लाइव टीवी

बारात में विषाक्त भोजन करने से 50 लोग बीमार, कई की स्थिति गंभीर

Pradesh18
Updated: May 2, 2016, 2:31 PM IST
बारात में विषाक्त भोजन करने से 50 लोग बीमार, कई की स्थिति गंभीर
घटना जगदीशपुर प्रखंड के कंवरा गांव की है.बीमार लोगों में अधिकतर एक ही परिवार के हैं. 18 लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई थी. गंभीर रूप से बीमार एक व्यक्ति का इलाज पटना और 17 का इलाज आरा सदर अस्पताल में कराया गया.

घटना जगदीशपुर प्रखंड के कंवरा गांव की है.बीमार लोगों में अधिकतर एक ही परिवार के हैं. 18 लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई थी. गंभीर रूप से बीमार एक व्यक्ति का इलाज पटना और 17 का इलाज आरा सदर अस्पताल में कराया गया.

  • Pradesh18
  • Last Updated: May 2, 2016, 2:31 PM IST
  • Share this:
बिहार के भोजपुर जिले में विषाक्त भोजन करने से पचास से अधिक लोग बीमार पड़ गए. सभी को उल्टी, दस्त और पेट में दर्द की शिकायत थी. घटना जगदीशपुर प्रखंड के कंवरा गांव की है. एक साथ करीब पचास लोगों के बीमार होने की सूचना से गांव से लेकर स्वास्थ्य महकमे तक में खलबली मच गई.

जगदीशपुर अनुमंडलीय अस्पताल प्रबंधन ने आनन-फानन में एम्बुलेंस भेज कर सभी को अस्पताल बुलाया और इलाज शुरू कर दिया. जानकारी के अनुसार कंवरा के पूर्व मुखिया चंदेश्वर सिंह के घर बारात आयी थी. बारात में घर और बाराती सहित गांव के सैकड़ों लोगों ने नाश्ता और भोजन किया था. बारात जाने के बाद एक-एक कर के कई लोग बीमार होने लगे. बीमार लोगों में अधिकतर एक ही परिवार के हैं. 18 लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई थी.

गंभीर रूप से बीमार एक व्यक्ति का इलाज पटना और 17 का इलाज आरा सदर अस्पताल में कराया गया. बीमार लोगों में चार बच्चे भी शामिल हैं. जगदीशपुर अनुमंडल अस्पताल के डॉक्टर एन के पी सिंह ने बताया कि शुरूआती जांच में खाने में गड़बड़ी से लोगों के बीमार होने का मामला लग रहा है. खून और दस्त की जांच के बाद ही जहरीले भोजन या डायरिया के बारे में स्पष्ट हो पाएगा.

उन्होंने बताया कि बारात में बचा भोजन और मिठाई खाने से बीमार पड़ने की संभावना है. इधर सूचना मिलने पर पूर्व विधायक भाई दिनेश अस्पताल पहुंचे और लोगों का हालचाल पूछा. उन्होंने सिविल सर्जन से बीमार लोगों का उचित इलाज करने की मांग की.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जहानाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 2, 2016, 2:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर