Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    दशरथ मांझी के बाद 'कैनाल मैन' पर बन रही है डॉक्यूमेंट्री फिल्म, जानें कौन हैं long live Loungi के डायरेक्टर

    लॉंगी भुइयां पर बन रही डॉक्यूमेंट्री फिल्म.
    लॉंगी भुइयां पर बन रही डॉक्यूमेंट्री फिल्म.

    लौंगी भुइयां (Loungi Bhuian) को अब कैनाल मैन (Canal Man) के नाम से भी लोग जानने लगे हैं. इसी के तर्ज पर फिल्म मेकर धर्मवीर भारती (Dharamvir Bharti) ने एक डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म बनाने का मन बनाया.

    • Share this:
    गया. जिले के मानपुर प्रखंड के रूपसपुर गांव निवासी फिल्म मेकर धर्मवीर भारती के द्वारा चर्चित में आये 'कैनाल मैन लौंगी भुइयां' पर एक डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म का निर्माण किया जा रहा है. गौरतलब है कि गया जिले के अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र लुटुआ पंचायत के कोठीलवा गांव के रहने वाले लौंगी भुइयां ने अपने 30 वर्षो के अथक प्रयास पहाड़ से गांव तक खेतों में पानी पहुंचाने के लिए 4 किमी तक एक नहर का खोद दिया था. लौंगी भुइयां की सोच यह थी कि पहाड़ का पानी व्यर्थ बर्बाद न हो और नहर काटकर एक आहर (छोटा पोखर) में इस पानी को जमा कर सिंचाई के काम में लाया जाए. अपने इस नेक काम के लिए लौंगी भुइयां सफल हुए और वह  सुर्खियों में आ गए.

    लौंगी भुइयां को अब कैनाल मैन के नाम से भी लोग जानने लगे हैं. इसी के तर्ज पर फिल्म मेकर धर्मवीर भारती ने एक डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म बनाने का मन बनाया. इसी सिलसिले में धर्मवीर भारती कोठी लावा गांव पहुंचे और डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म बनाने के लिए शुभारंभ कर दिया है. फिलवक्त डॉक्यूमेंट्री का ट्रेलर भी लॉंच कर दी गई है. इस संबंध में  फिल्मेकर धरमवीर भारती ने कहा कि आज के परिवेश में जितने भी तथ्यपरक घटनाएं घटती हैं उस पर मेरी कोशिश डॉक्यूमेंट्री बनाने की रहती है. इसी कड़ी में एक सच कहानी सामने आई लौंगी भुइयां द्वारा की गई मेहनत की.

    उन्होंने कहा कि अखबार और चैनलों के माध्यम से लौंगी भुइयां के बारे में जानकारी मिली तो हम लोगों ने  अपनी टीम के साथ कोठीलबा गांव पहुंचकर डॉक्यूमेंट्री फिल्म बनाने की सोची और ट्रेलर की लॉन्चिंग कर चुके हैं.  उन्होंने यह भी कहा कि उनकी कहानी जिस तरह से सामने आएगी उसी तरह से डॉक्यूमेंट्री का समय सीमा निर्धारित की जाएगी. इस डॉक्यूमेंट्री फिल्म का नाम 'लॉन्ग लिव लौंगी'' रखा गया है. उन्होंने कहा कि इस डॉक्यूमेंट्री फिल्म का निर्माण जल्द से जल्द कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि पगला लौंगी भुइयां अब बाबा लौंगी भुइयां बन गया है.




    बता दें कि न्यूज़ एटिन की टीम ने लौंगी भुइयां की खबर प्रमुखता से चलाई थी जिसके बाद प्रखंड से लेकर नेशनल चैनलों और अखबारों ने लौंगी भुइयां की खबरों को प्रकाशित किया. न्यूज़ एटिन की टीम की खबर चलने के बाद महिंद्रा ट्रैक्टर के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने भी प्रशंसा करते हुए उन्हें एक ट्रैक्टर गिफ्ट किया था जो आज अपने खेतों में चला रहे हैं. लौंगी भुइयां को सब पागल कहते थे, लेकिन आज जब उनके कारनामे देश-विदेश में होने लगी तो गांव के लोग अब पगला भुईयां को बाबा लौंगी भुइयां के नाम से जाने जाने लगे हैं.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज