Home /News /bihar /

एजेंसी की मनमानी से घरेलू गैस उपभोक्ता परेशान

एजेंसी की मनमानी से घरेलू गैस उपभोक्ता परेशान

भारत सरकार ने घरेलू गैस एजेंसियों की मनमानी और कालाबाजारी रोकने के डीबीटीएल सहित कई कदम उठाने की बात कही है पर सरकार के इस पहल के बाद भी गया के घरेलू गैस उपभोक्ता की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही है और आए दिन उसे गैस एजेंसियों की मनमानी का शिकार होना पड़ रहा है.

भारत सरकार ने घरेलू गैस एजेंसियों की मनमानी और कालाबाजारी रोकने के डीबीटीएल सहित कई कदम उठाने की बात कही है पर सरकार के इस पहल के बाद भी गया के घरेलू गैस उपभोक्ता की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही है और आए दिन उसे गैस एजेंसियों की मनमानी का शिकार होना पड़ रहा है.

भारत सरकार ने घरेलू गैस एजेंसियों की मनमानी और कालाबाजारी रोकने के डीबीटीएल सहित कई कदम उठाने की बात कही है पर सरकार के इस पहल के बाद भी गया के घरेलू गैस उपभोक्ता की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही है और आए दिन उसे गैस एजेंसियों की मनमानी का शिकार होना पड़ रहा है.

अधिक पढ़ें ...
भारत सरकार ने घरेलू गैस एजेंसियों की मनमानी और कालाबाजारी रोकने के डीबीटीएल सहित कई कदम उठाने की बात कही है पर सरकार के इस पहल के बाद भी गया के घरेलू गैस उपभोक्ता की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही है और आए दिन उसे गैस एजेंसियों की मनमानी का शिकार होना पड़ रहा है.

लगातर परेशानी झेल रहें अभिनय इंडेन इंटरप्राइजेज गैस एजेंसी के सैकड़ों-सैकड़ों उपभोक्ताओं का गुस्सा मंगलवार को फूट पड़ा और उन लोगों ने जिलाधिकारी आवास के बाहर कई घंटे तक गैस सिलेंडर लेकर प्रदर्शन किया.

जिलाधिकारी से समय पर गैस उपलब्ध कराने की मांग की. इस एजेंसी के उपभोक्ता शिवनाथ प्रसाद की मानें तो उन्हें होम डिलीवरी आज तक कभी नहीं मिला है और इसके साथ ही गोदाम पर पांच-छः बार जाने के बाद एक बार उन्हें गैस सिलेंडर मिलता है और पिछले दो महीना से एक भी सिलेंडर नहीं मिल पाया है.

दूसरे उपभोक्ता विकास कुमार ने बताया कि सरकार अखबार और टीवी पर पहल और डीबीटीएल योजना का बड़ा-बड़ा विज्ञापन देकर भले ही अपनी पीठ थपथपा रही हो पर हकीकत है कि गैस एजेंसी मालिक की मनमानी और कालाबाजारी आज भी जारी है और वह उपभोक्ताओं को तरह-तरह का बहाना बनाकर परेशान कर रहें हैं.

अभिनय एजेंसी तो एक उदाहरण मात्र है हकीकत है कि सरकार और जिला प्रशासन के लाख दावों के बावजूद अधिकांश गैस उपोभक्ताओं सही समय और सही कीमत पर होम डिलीवरी की सेवा नहीं मिल रही है और वह काम धंधा छोड़कर एक अदद सिलंडेर के लिए कई-कई दिन चक्कर लगा रहें हैं.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर