Bihar Election: वोट मांगने आए BJP प्रत्याशी हरि मांझी पर बरसे ग्रामीण, खूब सुनाई खरी-खोटी, देखें VIDEO

हरि मांझी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.
हरि मांझी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

बोधगया विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी हरि मांझी (Hari Manjhi) वोट मांगने आये तो ग्रामीणों ने उनका जमकर विरोध. अब ये वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल (Viral Video) हो रहा है. 

  • Share this:
बोधगया. बिहार के बोधगया विधानसभा क्षेत्र के फतेहपुर प्रखंड के नौडीहा झुरांग गांव में बोधगया विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी रहे एनडीए के भाजपा प्रत्याशी हरि मांझी (Hari Manjhi) का ग्रामीणों ने जमकर विरोध किया. वहीं कुछ कार्यकर्ता ग्रामीणों से उलझते भी नजर आए. अब हरि मांझी का विरोध करते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया (Viral Video) पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है. दरअसल, बोधगया विधानसभा क्षेत्र में एनडीए के भाजपा प्रत्याशी हरि मांझी को टिकट मिला है. टिकट मिलने के बाद हरि मांझी ने अपने क्षेत्र का दौरा शुरू कर दिया.

हरि मांझी एनडीए के पक्ष में वोट मांग रहे हैं. हालांकि जब हरि मांझी अपने कार्यकर्ताओं के साथ फतेहपुर प्रखंड के नौडीहा झुरांग गांव पहुंचे तो ग्रामीणों ने सबसे पहले हरि मांझी को एक चेयर पर बैठाया. चेयर पर बैठने के बाद ग्रामीणों ने उनसे किए गए कार्यों की जानकारी मांगी. मालूम हो कि हरि मांझी पिछले दो बार से गया जिला के सांसद रह चुके हैं. दो बार सांसद रहने के बावजूद भी फतेहपुर प्रखंड के कई गांव में खासकर नोडिहा झुरांग गांव में सरकार व केंद्र सरकार के द्वारा कोई भी कार्य नहीं किया गया है. इसी को लेकर ग्रामीणों ने उनसे 10 साल का हिसाब किताब मांगा. वहीं ग्रामीणों का विरोध करने के बाद हरि मांझी चेयर छोड़कर वहां से निकलते बने.  हालांकि उसके बाद कुछ कार्यकर्ता ग्रामीणों के साथ नोंकझोक करने लगे.

यहां देखें वीडियो




ये भी पढ़ें: हिमाचल: सीएम जयराम ठाकुर के बाद अब कृषि मंत्री डॉ.राम लाल मारकंडा हुए Corona पॉजिटिव 

जेडीयू ने की बड़ी कार्रवाई

इधर, बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव में बागी तेवर दिखाने वाले नेताओं पर जेडीयू ने कार्रवाई शुरू कर दी है. पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने वाले 15 नेताओं को जेडीयू ने 6 साल के लिए निष्काषित कर दिया है. पार्टी लाइन का मानना है कि ये नेता पार्टी से बग़ावत कर दूसरे पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं. साथ ही कई दूसरी पार्टियों की मदद भी कर रहे हैं. जेडीयू ने रामेश्वर पासवान, प्रमोद चंद्रवंशी, अरुण कुमार, तजम्मल खां, अमरेश चौधरी, शिवशंकर चौधरी, सिंधु पासवान, करतार सिंह, राकेश रंजन, ददन पहलवान, सुमित सिंह, भगवान सिंह कुशवाहा, रणविजय सिंह, कंचन गुप्ता और मुंग़ेरी पासवान को 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है.

ये भी पढ़ें: Bihar Election 2020: बागी तेवर दिखाने वाले 15 नेताओं पर गिरी गाज, JDU से 6 साल के लिए निष्कासित 

इधर, बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर प्रचार का दौर शुरू हो चुका है. महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने भी अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है. राजद ने इस सूची में 30 नेताओं को जगह दी है, जिनको बिहार की 243 सीटों पर महागठबंधन और राजद के लिए प्रचार करना है. स्टार प्रचारकों की लिस्ट में सबसे पहला नाम बिहार के पूर्व सीएम और लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी का है. इसके अलावा उनके परिवार से दोनों बेटे तेजस्वी प्रसाद यादव और तेज प्रताप यादव समेत डॉक्टर मीसा भारती को भी स्टार प्रचारकों की सूची में जगह मिली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज