जुआ और शराब पार्टी के बाद युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस
Gaya News in Hindi

जुआ और शराब पार्टी के बाद युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस
पुलिस मामले की जांच कर रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बिहार (Bihar) के गया (Gaya) में मृतक के साथ पहले जुआ खेला गया. फिर शराब पार्टी की गयी और अंत में उसकी गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी गयी.

  • Share this:
गया. शराबबंदी और कोरोनाकाल में सोशल डिस्टेसिंग के नियमों को धता बताते गया में एक ऐसी वारदात (Crime) को अंजाम दिया गया है, जिसमें मृतक के साथ पहले जुआ खेला गया. फिर शराब पार्टी की गयी और अंत में उसकी गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी गयी. यह मामला विष्णुपद थाना के ब्राह्मणी घाट स्थित फल्गु नदी का है, जहां मंगलवार की अहले सुबह उपेन्द्र मिश्रा की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. इस घटना से पहले मृतक के बड़े भाई पर भी गोली चलाकर जान लेने की कोशिश की गयी थी. परिजन पूरे मामले में पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा रहे हैं.

इस वारदात के प्रत्यक्षदर्शी सूरज कुमार और चंदन कुमार ने बताया कि फल्गु नदी के ब्राह्मणी घाट पर शाम पांच से जुआ शुरू हो गया था और देर रात होने पर शराब पार्टी की गयी थी. इस शराब पार्टी में मृतक उपेन्द्र मिश्रा के साथ ही सूरज चंदन,समेत कुल छह लोग शामिल हुए. शराब पार्टी के बाद उपेन्द्र, सूरज और चंदन नदी में ही बिछावन लगाकर सो गये और अहले सुबह करीब 3 बजे उपेन्द्र की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. प्रत्यक्षदर्शी सूरज और चंदन ने पुलिस और परिजनों को बताया कि गोली की आवाज सुनकर उनलोगो की नींद टूटी तो उन्होंने उपेन्द्र परिवार के पुराने दुश्मन मुकेश शर्मा एवं एक अन्य व्यक्ति को भागते हुए देखा था. वे लोग घटना के बाद डर गये थे. इसलिए घटना की जानकारी तुरंत नहीं दी और सुबह में जाकर उनके परिवार को बताया था.

सालों से चल रहा है विवाद
इस मामले में मृतक उपेन्द्र के भाई राकेश कुमार मिश्रा ने बताया कि पड़ोसी मुकेश शर्मा के परिवार से उनका परिवार का 10 साल से भे ज्यादा समय से दुश्मनी चल रही है. उन लोगों ने उनके पिता के साथ मारपीट करते हुए घर पर हमला किया था और छह महीना पहले उनके बड़े भाई पर गोली चलाकर जान लेने की कोशिश की थी. प्राथमिकी दर्ज होने के बाद भी पुलिस ने मुकेश शर्मा को गिरफ्तार नहीं किया, जिससे आरोपी का मन बढ़ गया और उसने साजिश करके उसके भाई उपेन्द्र की गोली मारकर हत्या कर दी है. उसने पुलिस पर आरोपी मुकेश के बचाने का भी आरप लगाया. वहीं घटना के बाद मौके पर पहुंचे स्थानीय वार्ड पार्षद संजय सिन्हा एवं संतोष कुमार ने पुलिस प्रशासन से पूरे मामले की जल्द छानबीन कर आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की है.
जांच में जुटी पुलिस


घटना की सूचना के बाद विष्णुपद थानाध्यक्ष उदय कुमार पहुंच जहां उन्हें परिवार का आक्रोश झेलना पड़ा. वहीं मामले की गंभीरतो को देखते हुए मौके पर पहुंचे नगर डीएसपी राजकुमार शाह ने कहा कि कहा कि उनलोगों ने प्रत्यक्षर्शी के साथ स्पॉट का वेरिफिकेशन किया है और उनके द्वारा दी जा रही जानकारी विरोधाभासी प्रतीत हो रहा है. इसलिए दोनों को हिरासत में लेकर पुछताछ की जा रही है. स्पॉट से मिली जानकारी और परिजन द्वारा लिखित आवेदन के आधार पर पुलिस छानबीन करेगी. वहीं पूर्व के केस मे फरार मुकेश शर्मा के शीघ्र गिरफ्तार करने के साथ ही पूरे मामले की जल्द ही उद्भेदन कर सभी आरोपी की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया है. जबकि शराबबंदी में शराब और जुआ पार्टी को लेकर वह पुलिस का बचाव करते हुए दिख रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज