Bihar Elections: भैंस पर चढ़कर प्रचार करना प्रत्याशी को पड़ा महंगा, खानी पड़ी हवालात की हवा

भैंस पर प्रचार करते प्रत्याशी मो. परवेज
भैंस पर प्रचार करते प्रत्याशी मो. परवेज

Bihar Election: पुलिस ने बताया कि आचार संहिता के उल्लंघन मामले में प्रत्याशी को गिरफ्तार किया गया. उन्होंने इस तरह से प्रचार करने की अनुमति प्रशासन से पूर्व में नहीं ली थी.

  • Share this:
गया. विधानसभा चुनाव (Bihar Elections) में भैंस पर चढ़कर प्रचार करने निकले प्रत्याशी को ये हथकंडा अपनाना महंगा पड़ गया. पुलिस ने मो. परवेज के खिलाफ आचार सहिता उल्लंघन और पशु अत्याचार अधिनियम के तहत केस (Case) दर्ज किया है. मो. परवेज राष्ट्रीय ओलमा पार्टी के उम्मीदवार हैं और गया टाउन से चुनाव लड़ रहे हैं. इस तरह से प्रचार करने की अनुमति नहीं लेने के कारण पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. हालांकि बाद में उन्हें थाने से जमानत दे दी गई.

सिविल लाइंस थाने में केस दर्ज 

मोहम्मद परवेज रविवार को चुनावी प्रचार के लिए गया के गांधी मैदान से भैंस पर सवार होकर निकले. लेकिन स्वजरपुरी रोड में पुलिस ने उनको गिरफ्तार में लिया. उनपर अचार संहिता उल्लंघन और पशु अत्याचार अधिनियम के तहत सिविल लाइंस थाने में केस दर्ज किया गया. हालांकि कुछ देर बाद प्रत्याशी को थाना से ही जमानत दे दी गई.



पुलिस ने बताया कि आचार संहिता के उल्लंघन मामले में प्रत्याशी को गिरफ्तार किया गया. उन्होंने इस तरह से प्रचार करने की अनुमति प्रशासन से पूर्व में नहीं ली थी.


'बीजेपी-कांग्रेस की जब्त होगी जमानत'

थाने से बाहर आने पर मो परवेज ने दावा किया कि गया टाउन सीट पर अन्य प्रत्याशियों की जमानत जब्त होने वाली है. शहर के लोग भाजपा प्रत्याशी प्रेम कुमार और कांग्रेस प्रत्याशी मोहन श्रीवास्तव से ऊब चुके हैं. प्रेम कुमार 30 साल से विधायक हैं और मोहन श्रीवास्तव पिछले 15 साल से डिप्टी मेयर हैं, वाबजूद इसके गया का कोई विकास नहीं हुआ.

...इसलिए किया भैंस पर चढ़कर प्रचार

भैंस से प्रचार के सवाल पर उन्होंने कहा कि भैंस पर प्रचार इसलिए कर रहे थे, क्योंकि गया को प्रदूषणमुक्त बनाना है. अगर चुनाव जीता तो शहर को प्रदूषणमुक्त बनाकर छोड़ेंगे. गया फिलहाल राज्य के सबसे गंदे शहरों में शामिल है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज