लू पीड़ितों से मिलने गया पहुंचे CM नीतीश, सुशील मोदी भी थे साथ
Gaya News in Hindi

लू पीड़ितों से मिलने गया पहुंचे CM नीतीश, सुशील मोदी भी थे साथ
लू पीड़ितों से मिलने गया पहुंचे सीएम नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल सह अस्पताल में कई मरीजों से मिले. उनके परिजनों से भी बात की. उन्‍होंने मेडिकल कॉलेजों का भी निरीक्षण किया.

  • Share this:
बिहार इन दिनों आपदा की दोहरी मार झेल रहा है. एक तरफ एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (Acute Encephalitis Syndrome) यानि चमकी बुखार तो वहीं दूसरी तरफ लू का कहर भी थमने का नाम नहीं ले रहा. लू पीड़ितों का हाल जानने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गया पहुंचे. उन्‍होंने गया के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल में लू (हीट स्ट्रोक) के पीड़ित मरीजों से मुलाकात की. इसके बाद अधिकारियों के संग बैठक कर आवश्‍यक निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल सह अस्पताल में कई मरीजों से मिले. उनके परिजनों से भी बात की. उन्‍होंने मेडिकल कॉलेजों का भी निरीक्षण किया. निरीक्षण के बाद भीषण गर्मी व लू की चपेट में आने से मरीजों की मौत व इलाज रत मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी के लिए प्रशासनिक भवन में अधिकारियों के साथ बैठक की.

100 से ज्यादा की मौत
बता दें कि बिहार में लू के कहर से अब तक 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. खासकर 15 जून से लेकर 19 जून तक लू का कहर चरम पर रहा. खासकर औरंगाबाद, गया, नवादा में तो लोग त्राहिमाम कर उठे. हालांकि गुरुवार को तपिश है, लेकिन लू के कहर से लोगों को राहत मिली है और मौत की रफ्तार पर ब्रेक भी लगा है.
चमकी बुखार पीड़ितों से मिलने भी गए थे नीतीश


गौरतलब‍ है कि बिहार में एक तरफ लू का कहर है तो दूसरी ओर चमकी बुखार से पीड़ित बच्‍चों की लगातार मौत हो रही है. दो दिन पहले मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार मुजफ्फरपुर गए थे. एईएस से पीड़ित भर्ती बच्‍चों के परिजनों से उन्‍होंने बात की थी. इतना ही नहीं, बिहार सरकार की ओर से एईएस और लू से मरनेवाले लोगों के आश्रितों को चार-चार लाख रुपए देने की घोषणा भी की गई है.

ये भी पढ़ें:

मैं अपने बच्चों की मौत पर कराहता मुजफ्फरपुर हूं...

बिहार: लालू-नीतीश के '50-50' में फंसकर रह गए तेजस्वी!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading