गया: थाइलैंड के 129 नागरिक लौटेंगे अपने देश, प्रशासनिक स्तर पर तैयारियां पूरी

म्यांमार के भी 258 नागरिक दो विशेष विमान से अपने देश वापस लौट चुके हैं. (फाइल फोटो)

कोरोना संकट (Covid-19 Crisis) के कारण बिहार (Bihar) सहित पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) जारी है. लेकिन लॉकडाउन के तीसरी बार विस्तार होने के बाद देश और विदेश मे फंसे लोगों के आवगमन की प्रकिया शुरू हो चुकी है.

  • Share this:
गया. कोरोना संकट (Covid-19 Crisis) के कारण बिहार (Bihar) सहित पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) जारी है. लेकिन लॉकडाउन का तीसरी बार विस्तार होने के बाद देश और विदेश मे फंसे लोगों के आवगमन की प्रकिया शुरू हो चुकी है. अब थाइलैंड के 129 नागरिक बुधवार (13 मई) को गया एयरपोर्ट से विशेष विमान से अपने देश वापस लौटने जा रहे हैं. थाइलैंड सरकार के आग्रह पर इसकी मंजूरी दी गई है. इन यात्रियों को वापस ले जाने के लिए थाइलैंड से विशेष विमान गया एयरपोर्ट आएगी. इससे पहले भी यहां से थाइलैंड के 342 नागरिक दो विशेष विमान से 24-25 अप्रैल को स्वदेश लौट चुके हैं. 22 अप्रैल को म्यांमार के भी 258 नागरिक दो विशेष विमान से अपने देश वापस लौटे हैं.

विदेशों में फंसे नागरिकों की भी होगी वापसी
एक तरफ जहां कई देश अपने नागरिकों को यहां से वापस लेकर जा रहे हैं. वहीं, भारत सरकार ने भी वंदे भारत मिशन के तहत अपने नागरिकों को दूसरे देश से वापस लाने का अभियान शुरू किया है. इस क्रम में बिहार के सभी लोगों को गया एयरपोर्ट पर विशेष विमान के जरिये लाने की तैयारी चल रही है. इसके लिए मगध प्रमंडल के आयुक्त असंगबा चुबा आओ को नोडल पदाधिकारी बनाया गया है.

आयुक्त ने अधिकारियों के साथ की बैठक
केन्द्र और राज्य सरकार से मिले निर्देश के बाद मगध प्रमंडल के आयुक्त असंगबा चुबा आओ ने गया एयरपोर्ट पर विशेष तैयारी बैठक की. इस दौरान डीएम अभिषेक सिंह एवं सिटी एसपी राकेश कुमार के साथ एयरपोर्ट निदेशक दिलीप कुमार समेत सीआईएसएफ एंव अन्य एजेंसी के अधिकारी शामिल हुए. इस बैठक में फ्लाईट के लैंडिंग के बाद सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए उन्हें विशेष बस के जरिये क्वारंटाइन सेंटर तक ले जाने की योजना पर चर्चा की गयी. मगध आयुक्त ने इस अभियान में भारत सरकार और एयरपोर्ट अथॉरिटी के द्वारा निर्धारित मानक प्रक्रिया (एसओपी) का पालन करने का निर्देश दिया.

एयरपोर्ट पर सोशल डिस्टेंसिंग का किया गया पालन
एयरपोर्ट निदेशक दिलीप कुमार ने बताया कि लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए 4 विशेष विमान से 600 यात्रियों को म्यांमार और थाइलैंड वापस भेजा जा चुका है. इस पूरी प्रकिया के दौरान मास्क, सेनेटाईजर और ग्लब्स का उपयोग किया गया. इसके अलावा सामान के बैग को सैनिटाइज करने के लिए मूविंग ट्राली पर ही सैनिटाइजर स्प्रिंकलर लगाया गया. बाहर से आनेवाले यात्रियों को वहां मेडिकल चेकअप के बाद फ्लाईट में बैठाया जायेगा. इसके अलावा गया एयरपोर्ट पर मेडिकल जांच की व्यवस्था की जायेगी.

बोधगया के होटल और मोनास्ट्री में ठहरेगें यात्री
विदेशों से आनेवाले यात्रियों के परिजन को गया एयरपोर्ट पर आने की अनुमति नहीं होगी और ये सभी यात्री बोधगया के होटल और विदेशी मोनास्ट्रीज में ठहराये जायेंगे. इस मामले पर डीएम अभिषेक सिंह ने कहा कि एयरपोर्ट पर बैरिकेटिंग की जायेगी और यहां से बस के जरिये सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए इन्हें होटल, गेस्ट हाउस और मोनास्ट्री में 21 दिन तक क्वारंटाइन रखा जागेया. इस दौरान इन यात्रियों को होटल एवं मोनास्ट्री का मिनीमम खर्च देना होगा.



ये भी पढ़ें: 

श्रमिक स्पेशल ट्रेन में गया पहुंचे मजदूरों से वसूला गया 900 रुपये तक किराया

BIHAR: मधुबनी की एक दर्दनाक कहानी पर बनी है 'बैंडिट शकुंतला'



पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.