गया: साथियों के साथ ताड़ी पी रहे व्यक्ति की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

ऐसी आशंका है कि रुपये के लेन-देन में विवाद की वजह से इस घटना को अंजाम दिया गया है. (सांकेतिक फोटो)

ऐसी आशंका है कि रुपये के लेन-देन में विवाद की वजह से इस घटना को अंजाम दिया गया है. (सांकेतिक फोटो)

शेरघाटी थानाध्यक्ष अरविंद कुमार (Arvind Kumar) ने कहा है कि अपराधियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा. वहीं, घटना से आक्रोशित परिजनों ने रात को आयी पुलिस को शव उठाने से रोक दिया.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 9, 2020, 12:59 PM IST
  • Share this:
गया. बिहार के गया जिले (Gaya District) में ताड़ी पी रहे एक व्य़क्ति की गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी गयी है. यह घटना शेरघाटी थाना क्षेत्र (Sherghati Police Station Area) के मोहब्बतपुर एवं सफीचक गांव के निकट बूढ़ी नदी के किनारे की है. मिली जानकारी के अनुसार, किसानी और सूद का काम करने वाले मोहब्बतपुर निवासी पंकज मंगलवार की देर शाम अपने मित्रों के साथ नदी किनारे बैठकर ताड़ी पी रहे थे. उसी दौरान बाइक से आये दो अपराधियों ने वहां बैठे अन्य लोगों को साइड होने को कहा और पंकज के शरीर में कई गोली दाग दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी.

वहीं, घटना की सूचना मिलने के बाद रिश्तेदारों का रो-रोकर बुरा हाल है. वहीं, घटना से आक्रोशित परिजनों ने रात को आयी पुलिस को शव उठाने से रोक दिया. ये मृतक के परिजन के लिए आर्थिक सहायता और अपराधियों के शीघ्र गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. मृतक पंकज के चचेरे भाई प्रेम कुमार आऩंद और हीरा यादव ने बताया कि इस घटना में अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी होने चाहिए. मृतक के दो बेटे हैं और पूरा परिवार उसी की कमाई पर निर्भर था. इसलिए प्रशासन को पीड़ित परिवार को आर्थिक सहयोग भी देना चाहिए.

पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए भी प्रयास कर रही है

वहीं, मौके पर पहुंचे स्थानीय शेरघाटी थानाध्यक्ष अरविंद कुमार ने अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी का आश्वासन परिजनों को दिया है और इसके लिए आरोपी की शिनाख्त के लिए प्रयासरत होने की बात कही. वहीं, शेरघाटी के एएसपी रवीश कुमार ने कहा कि घटना को लेकर पुलिस संवेदनशील है और शव का पोस्टमार्टम कराने के साथ ही अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए भी प्रयास कर रही है. और जल्द ही इस हत्यकांड का खुलासा करते हुए अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा. ऐसी आशंका है कि रुपये के लेन-देन में विवाद की वजह से इस घटना को अंजाम दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज