5 लाख रुपए की रंगदारी के लिए व्यवसायी पुत्र को घर में घुसकर मारी गोली, पुलिस ने गैंग को दबोचा
Gaya News in Hindi

5 लाख रुपए की रंगदारी के लिए व्यवसायी पुत्र को घर में घुसकर मारी गोली, पुलिस ने गैंग को दबोचा
गया से पकड़े गए अपराधियों के बारे में जानकारी देते एसपी

गया के सिटी एसपी ने बताया कि घटना के बाद के कोतवाली, मुफस्सिल और बुनियादगंज थाना के प्रभारियों को मिलाकर एक टीम गठित की गई और उसके ठिकाने पर छापेमारी की गई और अपराधियों को गिरफ्तार किया गया.

  • Share this:
गया. बिहार की गया पुलिस (Gaya Police) ने रंगदारी को लेकर व्यवसायी पुत्र को गोली मारने वाले अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है. शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र के गुरुद्वारा रोड में अपराधियों ने 5 लाख की रंगदारी (Extortion Money) नहीं मिलने के बाद व्यवासयी राजकुमार प्रसाद के घर में घुसकर उनके बेटे विनोद कुमार को गोली मारकर घायल कर दिया था. इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी लेफ्टी यादव सहित पांच अपराधियों को गिरफ्तार किया है.

हथियार समेत विदेशी मुद्रा बरामद

पुलिस ने सभी अपराधियों की गिरफ्तारी मुफस्सिल थाना क्षेत्र इलाके से की है. इनके पास से पुलिस को एक देशी कट्टा, दो जिंदा कारतूस, 39 एटीएम कार्ड, एटीएम स्कैनर मशीन, एक अमेरिकन डॉलर और 5 मोबाइल भी मिले हैं. गिरफ्तार अपराधियों के खिलाफ विभिन्न थानों में कई मामले दर्ज हैं और सभी अपराधी हाल ही में जेल से छूट कर बाहर निकले हैं. अपराधी दूसरों के एटीएम स्कैन कर रुपए निकालने में भी माहिर है. इसकी जानकारी सिटी एसपी राकेश कुमार ने कोतवाली थाना में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी.



स्पेशल टीम का हुआ था गठन
सिटी एसपी राकेश कुमार ने बताया कि शुक्रवार कि रात लेफ्टी यादव ने अपने अन्य साथियों के साथ कोतवाली थाना क्षेत्र के गुरुद्वारा रोड में राजकुमार के घर में घुसकर उनके बड़े पुत्र विनोद कुमार को गोली मारकर घायल कर दिया था. उन्होंने बताया कि राजकुमार के बेटे विनोद कुमार से अपराधियों के द्वारा पांच लाख की रंगदारी मांगी गई थी और पैसे नहीं देने पर हत्या की भी धमकी दी थी जिसके बाद रात में लेफ्टी यादव अपने साथियों के साथ घर में घुसा और गोली मार दी.

हाल ही में जेल से छूटा है गैंग

एसपी ने बताया कि घटना के बाद के कोतवाली, मुफस्सिल और बुनियादगंज थाना के प्रभारियों को मिलाकर एक टीम गठित की गई और उसके ठिकाने पर छापेमारी की गई. अहले सुबह मानपुर के मुफस्सिल थाना क्षेत्र में लेफ्टी यादव के रहने की सूचना मिली जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी की और लेफ्टी यादव के साथ उसके चार अन्य साथियों को भी गिरफ्तार किया है. सभी अपराधियों के खिलाफ विभिन्न थानों में कई मामले दर्ज हैं और हाल ही में सभी जेल से बाहर छूट कर आये हैं.

जमीन हड़पने की भी करते हैं कोशिश

एसपी राकेश कुमार ने बताया कि लेफ्टी यादव एवं इनके साथी के द्वारा बोधगया में भी एक जमीन हड़पने के नाम पर पैसे उगाही करने का भी मामला आया आया है लेकिन इस मामले में कोई केस दर्ज नहीं किया गया है. उन्होंने बताया कि वैसे अपराधी जो एटीएम का ठगी करते थे उनको भी इन अपराधियों के द्वारा चिन्हित कर पैसे छीन लिये जाते थे. उन्होंने बताया कि इन अपराधियों ने गलत काम करके काफी पैसे अर्जित किए हैं. पुलिस इन पैसों को भी जब्त करने की प्रक्रिया में लगी है
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज