लाइव टीवी

Gaya: छात्रों ने बनाया किसानों की लागत घटाने का प्रोजेक्ट, अब देशभर में मिला प्रथम स्‍थान
Gaya News in Hindi

arun kumar | News18Hindi
Updated: February 15, 2020, 11:46 PM IST
Gaya: छात्रों ने बनाया किसानों की लागत घटाने का प्रोजेक्ट, अब देशभर में मिला प्रथम स्‍थान
लॉकडाउन के दूसरे चरण में ​कृषि क्षेत्र को भी मिली और छूट.

यह प्रोजेक्ट ड्रोन कैमरा के जरिए क्रॉप मैपिंग एवं केमिकल स्प्रे पर आधारित है जिसमें कम लागत में बेहतर कृषि उत्पादन की संभावना दिखाई गई है. देश भर के सभी अटल टिकरिंग लैब के छात्रों के बीच हर महीने विभिन्न विषयों पर प्रोजेक्ट के जरिए प्रतियोगिता आयोजित की जाती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 15, 2020, 11:46 PM IST
  • Share this:
 गया. गया के जिला स्कूल परिसर में संचालित अटल टिकरिंग लैब के छात्रों के प्रोजेक्ट को नीति आयोग की प्रतियोगिता में देशभर में प्रथम स्थान मिला है. यह प्रोजेक्ट ड्रोन कैमरा के जरिए क्रॉप मैपिंग एवं केमिकल स्प्रे पर आधारित है जिसमें कम लागत में बेहतर कृषि उत्पादन की संभावना दिखाई गई है. देश भर के सभी अटल टिकरिंग लैब के छात्रों के बीच हर महीने विभिन्न विषयों पर प्रोजेक्ट के जरिए प्रतियोगिता आयोजित की जाती है. इस प्रतियोगिता में गया के प्लस 2 जिला स्कूल के प्रोजेक्ट को पूरे देश में प्रथम स्थान दिया गया है. प्रोजेक्ट से जुड़े छात्र प्रेमसागर ने बताया कि उन लोगों ने अपने ड्रोन कैमरा लेकर खेतों में जाकर पहले प्रयोग किया और फिर इसे प्रजोक्ट बनाकर भेजा गया.

फसल भी होगी बेहतर
इस संबंध में जिला स्कूल स्थित अटल टिकरिंग लैब के प्रभारी डॉ देवेन्द्र सिंह ने बताया कि नीति आयोग द्वारा कृषि, डिजास्टर मैनेजमेंट, हेल्थकेयर, मीडिया एंड इंटरटेनमेंट, वेस्ट टू वेल्थ क्रिएशन और वाटर रिसोर्सेज मेनेजमेंट समेत कुल छह विषयों पर प्रतियोगिता आयोजित की गई थी. इसको देखते हुए उन्होंने बिहार और गया की जरूरत के अनुरूप कृषि विषय पर अपना प्रोजेक्ट तैयार किया था. ड्रोन कैमरा के जरिए क्रॉप की जागी और आवश्यकता अनुसार ड्रोन से ही केमिकल स्प्रे किया जाएगा. साथ्क ही इसकी मदद से पानी, रसायनिक खाद एवं रसायनिक दवाईयों की मात्रा का खर्च कम होगा, किसानों की लागत घटेगी और फसल भी बेहतर होगी.

स्कूल का प्रदर्शन लगातार रहा है अच्छा



वहीं इस संबंध में नीति आयोग के मेंटर सौरभ सिंह ने बताया कि बिहार में 63 समेत पूरे देश में 6000 अटल टिकरिंग लैब नीति आयोग के निर्देशन में संचिलत हैं. लैब की संख्या बढ़ाने का काम भी लगातार नीति आयोग कर रहा है. इसमें बच्चों के बीच विभिन्न मुद्दों पर प्रोजेक्ट के जरिए आगे बढ़ाने का काम किया जा रहा है. इसमें गया के जिला स्कूल का प्रदर्शन लगातार अच्छा रहा है. जिला स्कूल स्थित टिकरिंग लैब के बच्चों के हवा से पानी संग्रह करने के प्रोजेक्ट नीति आयोग की टीम से लकेर राष्ट्रपति तक सम्मानित कर चुके हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 15, 2020, 11:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading