ये कैसा फरमान, अब गया में फ्रंटलाइन और हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन के दूसरे डोज के बाद मिलेगा वेतन

 हेल्थ वर्कर्स को पहले लगेगा वैक्सीन का दूसरा डोज, इसके बाद मिलेगा वेतन -सांकेतिक फोटो

हेल्थ वर्कर्स को पहले लगेगा वैक्सीन का दूसरा डोज, इसके बाद मिलेगा वेतन -सांकेतिक फोटो

प्रभारी डीएम डीसीसी सुमन कुमार के द्वारा निर्देश जारी किया गया है कि अब फ्रंटलाइन वर्कर्स व हेल्थ वर्कर्स को कोविड-19 वैक्सीन की दूसरी डोज का प्रमाण पत्र जमा करना होगा. इसके बाद ही उसे अगले माह के वेतन का भुगतान किया जाएगा.

  • Share this:
गया. जिला प्रशासन की तरफ से फ्रंटलाइन वर्कर्स ( Frontline Worker ) व हेल्थ वर्कर्स के लिए एक आदेश जारी किया गया है. इस आदेश में फ्रंटलाइन वर्कर व हेल्थ वर्कर्स के वेतन पर रोक लगाए जाने का निर्देश जारी किए गए हैं. हालांकि इस निर्देश के मिलने के बाद विभिन्न विभागों के कर्मचारियों के सामने अभी से समस्याएं खड़ी होने लगी हैं. पहली डोज के बाद दूसरा डोज अनिवार्य करने को लेकर यह आदेश जारी किया गया है.

दरअसल, प्रभारी डीएम डीसीसी सुमन कुमार के द्वारा निर्देश जारी किया गया है कि अब फ्रंटलाइन वर्कर्स व हेल्थ वर्कर्स को कोविड-19 वैक्सीन की दूसरी डोज का प्रमाण पत्र जमा करना होगा. इसके बाद ही उसे अगले माह के वेतन का भुगतान किया जाएगा. कई ऐसे सरकारी कर्मी हैं, जिन्होंने पहला डोज लेने का प्रमाण पत्र जमा करने के बाद मार्च माह के वेतन का उठाव किया है. लोगों को पहले से ही निर्देश दिया गया था कि जो कर्मी व स्वास्थ्य कर्मी कोविड-19 का पहला डोज लेने के बाद उसे दूसरा डोज लेना अनिवार्य है. यानि दूसरा डोज लेने का प्रमाण पत्र जमा करने के बाद ही उसे मार्च माह का वेतन का भुगतान किया जाना है. लेकिन कई ऐसे कर्मी हैं जो दूसरा डोज लेने में रुचि नहीं ले रहे हैं. इसी के चलते प्रभारी डीएम सुमन कुमार ने यह आदेश जारी किया है.

जारी किए गए आदेश.


गौरतलब है कि 6 अप्रैल को जिला प्रशासन के द्वारा सभी सरकारी कर्मचारियों व स्वास्थ्य कर्मियों को सूचना दी गई थी कि पहला डोज लेने के बाद दूसरे डोज लेने का प्रमाण पत्र दिखाना होगा. इसके बाद ही उसे मार्च माह का वेतन भुगतान किया जाएगा. लेकिन सूचना मिल रही है कि ज्यादातर लोग दूसरा डोज का प्रमाण पत्र जमा किए बगैर ही मार्च माह का वेतन उठा लिया है. इसके कारण ही प्रभारी डीएम सुमन कुमार ने 20 अप्रैल को उल्लंघन करने का एक पत्र जारी किया है. उसमें लिखा गया है कि पूर्व के निर्देश के अनुसार फ्रंटलाइन व हेल्थ वर्कर के द्वारा इसका उल्लंघन किया गया है. दूसरा डोज लेने में ज्यादातर लोग रुचि नहीं ले रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज