अपना शहर चुनें

States

कोरोनाकाल में किरायेदारों ने खाली किया कमरा, तो गृहिणियों ने शुरू की मशरूम की खेती

गया में किराये की कमाई की भरपाई के लिए लोग खाली पड़े कमरों में मशरूम उगा रहे हैं.
गया में किराये की कमाई की भरपाई के लिए लोग खाली पड़े कमरों में मशरूम उगा रहे हैं.

गया के डेल्हा इलाके के कॉलोनियों में लोग खाली पड़े कमरों और किचेन में मशरूम (Mushroom Farming) उगा रहे हैं. कोरोना (Corona) के चलते किरायेदार (Renters) इन कमरों को खाली कर घर चले गये.

  • Share this:
गया. कोरोना (Corona) ने लोगों की जिंदगी बदलकर रख दी है. लोग काफी कुछ नया सीख रहे हैं. गया में मकान मालिक वैसे कमरों में अब मशरूम (Mushroom Farming) उगा रहे हैं, जिसमें पहले किरायेदार (Renters) रहते थे. कोरोना के चलते लॉकडाउन लगा तो अधिकांश किरायेदार मकान खाली कर अपने घर चले गये. ऐसे में मकान मालिकों को आर्थिक नुकसान हो रहा था. इस नुकसान से निबटने के लिए मालिकों ने मशरूम की खेती को विकल्प बनाया है.

गया के डेल्हा इलाके के कॉलोनियों में लोग खाली पड़े कमरों और किचेन में मशरूम उगा रहे हैं. मशरूम की खेती करने के लिए समर्थ नामक संस्था लोगों को प्रोत्साहित कर रही है.

घर में मशरूम की खेती कर रहे युवक अनिमेश आनंद ने कहा, 'मेरा तीन मंजिला मकान है. पहले इसमें किरायेदार भरे हुए थे, लेकिन कोरोना के चलते सारे किरायेदार यहां से चले गये. ऐसे में खाली पड़े कमरों का मशरूम की खेती में उपयोग कर रहे हैं.'



मशरूम की खेती कर रही एक महिला ने बताया कि उसने दो कमरे में डेढ़ सौ बैग मशरूम लगा रखा है. इसमें समर्थ संस्था की ओर से सहयोग मिल रहा है.  बतौर महिला पहले इन दो कमरों के किराया से साल में 30 हजार रुपया आता था. अब मशरूम की खेती से कम से कम 40 हजार रुपये की कमाई होगी. महिला अपनी देवरानी के साथ मिलकर खेती कर रही है. और पास के दुकानों में मशरूम बेचती है.


समर्थ संस्था के चेयरमैन ने बताया कि हमलोग पिछले वर्ष नाबार्ड की सहायता से गया के कई गांवों में मशरूम की खेती की शुरुआत कराई थी. इस बार कोरोना के चलते हमलोगों ने सोचा कि गांव के बदले शहर में मशरूम की खेती की शुरुआत कराई जाए. चूंकि लॉकडाउन में शहरों के कई मकान खाली हो चुके हैं. इसलिए लोगों से इन कमरों में मशरूम लगाने का अनुरोध किया. हमारी तरफ से लोगों को मशरूम के बीज उपलब्ध कराये गये. जिसके बाद कई लोगों ने खाली पड़े अपने घरों में मशरूम की खेती शुरू की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज