लाइव टीवी
Elec-widget

बेनामी संपत्ति मामले में बड़ी कार्रवाई, बोधगया में थाईलैंड के व्यवसायी की करोड़ों की जमीन जब्त

Arun Chaurasia | News18 Bihar
Updated: November 12, 2019, 5:52 PM IST
बेनामी संपत्ति मामले में बड़ी कार्रवाई, बोधगया में थाईलैंड के व्यवसायी की करोड़ों की जमीन जब्त
पर्चा की जमीन आरोपी किट्टी नवानी ने खरीदी थी.

आयकर विभाग (Income Tax Department) की टीम ने बोधगया में बड़ी कार्रवाई करते हुए थाईलैंड निवासी किट्टी नवानी (Kitty Navani) की बुद्धिस्ट थाई सोसायटी (Buddhist Thai Society) के नाम पर फर्जी तरीके से खरीदी गई 4.34 एकड़ जमीन जब्त की है. इसके बाद बोधगया में हड़कंप मच गया है.

  • Share this:
बोध गया. आयकर विभाग (Income Tax Department) की टीम ने बोध गया में बड़ी कार्रवाई की है. इस दौरान किट्टी नवानी (Kitty Navani) ने बुद्धिस्ट थाई सोसायटी (Buddhist Thai Society) के नाम पर फर्जी तरीके से खरीदी गई 4.34 एकड़ जमीन को जब्त कर लिया है. बेनामी संपत्ति कानून के तहत कार्रवाई करते हुए आयकर विभाग की टीम ने संबंधित जमीन पर जब्ती का नोटिस चिपका दिया है. सरकारी स्तर पर इसकी कीमत करीब 17 करोड़ है. हालांकि इसका बाजार मूल्य एक अरब बताया जा रहा है. हैरानी की बात है कि यह पर्चा जमीन थी, जिसे कोई भी खरीद और बेच नहीं सकता है.

ऐसे जमीन का मालिक बना किट्टी नवानी
जब्त की गई जमीन दलितों और भूमिहीनों को जीविकोपार्जन के लिए दी गई थी. जबकि पर्चा और परवाना की जमीन होने के कारण भू-मालिक इसकी खरीद और बिक्री नहीं कर सकते हैं, लेकिन किट्टी नवानी नामक थाइलैंड के निवासी ने फर्जी ट्रस्ट के नाम पर 2014 में रजिस्ट्री करवा ली थी. इसमें रजिस्ट्री ऑफिस और अंचल के अधिकारियों पर भी सवाल उठ रहें हैं, क्योंकि पर्चा की जमीन की खरीद-बिक्री संभव नहीं है.

दरअसल, आयकर विभाग ने सोसायटी के नाम पर खरीदी गयी 4.34 एकड़ जमीन की जांच की तो उसे किट्टी नवानी नामक थाई भंते के द्वारा जमीन खरीदने की जानकारी मिली और पूछताछ में वह संपत्ति खरीदने के लिए आमदनी के स्रोत की जानकारी नहीं दे पाया. इसके बाद आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति कानून के तहत इसे जब्त कर लिया है.

फरार हुआ आरोपी
आरोपी किट्टी नवानी इस समय फरार है और उसके नाम पर गया सिविल कोर्ट से गैर जमानती वारंट भी जारी है. आरोपी किट्टी नवानी का जन्म पाकिस्तान के करांची में हुआ था और वह वहां से थाइलैंड जाकर बस गया था. थाइलैंड में वहां के पूर्व प्रधानमंत्री शिनवात्रा के परिवार से वह जुड़ गया और फिर बोधगया आकर थाई-भारत सोसायटी का सचिव बन गया. इसके बाद वह थाई-भारत सोसायटी को धोखा देते हुए अपने नाम संपत्ति बनाना लगा और फिर खुद को थाई-भारत सोसायटी के फर्जी अध्यक्ष एवं बोधगया के मस्तीपुर गांव का निवासी का फर्जी सर्टिफिकेट बनाकर जमीन की खरीद ली.
किट्टी नवानी की 4.34 एकड़ जमीन के जब्त होने के बाद बोधगया में हड़कंप है,क्योंकि यहां पर्चा की जमीन की अवैध तरीके से खरीद-बिक्री और फर्जी सोसायटी एवं एनजीओ बनाकर संपत्ति बनाने वाले माफियाओं की संख्या काफी है. हालांकि ऐसे की मामले आए हैं जिसमें सरकारी जमीन को भी निजी बताकर बेच दिया गया है. जबकि इस सिलसिले में रजिस्ट्री ऑफिस और अंचल के कर्मचारियों की मिलीभगत भी सामने आ चुकी है.
Loading...

ये भी पढ़ें-

घात लगाए अपराधियों ने ओवरटेक कर की ताबड़तोड़ फायरिंग, 1 की मौत 2 जख्मी

नाबालिग बच्ची से रेप के आरोपी मौलाना की अब तक गिरफ्तारी नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2019, 5:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...