लाइव टीवी

मांझी ने पाला बदलने के कयासों पर लगाया विराम, कहा-एकजुट होकर NDA को हराएंगे

News18 Bihar
Updated: February 8, 2019, 4:21 PM IST
मांझी ने पाला बदलने के कयासों पर लगाया विराम, कहा-एकजुट होकर NDA को हराएंगे
गया में पत्रकारों से बात करते हुए जीतनराम मांझी

मांझी ने साफ किया कि वृषिण पटेल पर पार्टी फंड में गड़बड़ी के आरोप लगने के बाद उन्हें पार्टी ने वापस लेने का सवाल ही नहीं उठता है. वहीं राष्ट्रीय प्रवक्ता दानिश रिजवान के मसले पर 12 फरवरी को आयोजित पार्टी की कोर कमेटी में विचार किया जाएगा.

  • Share this:
महागठबंधन में मतभेद की खबरों के बीच पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने साफ किया है कि उनकी पार्टी महागठबंधन के साथ मजबूती से खड़ी है और एनडीए में जाने का  कोई सवाल ही नहीं उठता है. उन्होंने दावा किया कि आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव में महागठबंधन का एकजुटता के साथ चुनाव लड़ेगा और एनडीए से बेहतर प्रदर्शन करेगा. मांझी ने पार्टी नेताओं के एक के बाद एक इस्तीफे पर कहा कि किसी के आने-जाने से उन्हेें कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा  जीतनराम मांझी की वजह से है.

गया में पत्रकारों से बात करते हुए मांझी ने साफ किया कि वृषिण पटेल पर पार्टी फंड में गड़बड़ी के आरोप लगने के बाद उन्हें पार्टी ने वापस लेने का सवाल ही नहीं उठता है. वहीं राष्ट्रीय प्रवक्ता दानिश रिजवान के मसले पर 12 फरवरी को आयोजित पार्टी की कोर कमेटी में विचार किया जाएगा.

ये भी पढ़ें-  नीतीश फॉर्मूले के साथ नीतीश विरोध की राजनीति में कामयाब हो पाएंगे तेजस्वी !

उन्होंने साफ किया कि दानिश रिजवान को अगर पार्टी में रहना है तो उन्हें काग्रेस की रैली को फ्लॉप कहने और एनडीए की बैठक में हम के शामिल होने की संभावना के बयान पर खेद जताना होगा.

मांझी ने पश्चिम बंगाल के ममता बनर्जी के धरना पर  दिये गये बयान को व्यक्तिगत करार दिया और कहा कि सीएम जैसे सांवैधानिक पद पर बैठे लोगों को धरना नहीं देना चाहिए. हालांकि उन्होंने ममता बनर्जी के विरोध का समर्थन किया.

ये भी पढ़ें-  इंटरमीडिएट परीक्षार्थियों को सरेआम बदसलूकी, छात्रों के उठक-बैठक का वीडियो वायरल

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में कानून व्यवस्था की स्थिति बदतर है. सुप्रीम कोर्ट की बार-बार फटकार के बाद भी भी कैमूर, किशनगंज और गया समेत पूरे बिहार में महिलाओं और बेटियों की इज्जत के साथ खिलवाड़ हो रहा है.मांझी ने 13 प्वाइंट रोस्टर का खत्म कर 200 प्वांइट रोस्टर की व्यवस्था को दुबारा लागू करने और जातीय जणगणना की सूची जारी कर सभी जातियों को आबादी के अनुसार आरक्षण देने की मांग की.

रिपोर्ट- अरुण कुमार चौरसिया

ये भी पढ़ें-  मांझी की नैया 'डूबना' महागठबंधन में दरार का संकेत है !

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2019, 4:21 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर