लाइव टीवी

गया: BDO की संदिग्ध मौत को परिवार ने कहा हत्या, BDO संघ ने उठाई जांच की मांग

News18 Bihar
Updated: October 31, 2019, 7:31 AM IST
गया: BDO की संदिग्ध मौत को परिवार ने कहा हत्या, BDO संघ ने उठाई जांच की मांग
बिहार के गया में कोंच के BDO राजीव रंजन की संदिग्ध अवस्था में हुई मौत की निष्पक्ष जांच की मांग की जा रही है.

बीडीओ राजीव रंजन के शव के पास से पांच पेज का सुसाइड नोट मिला है जिसमें पारिवारिक कलह के साथ ही जिले की वरीय अधिकारियों द्वारा तरह-तरह से मानसिक रूप से परेशान करने की चर्चा की गयी है. हालांकि पुलिस इस सुसाइड नोट को सार्वजनिक नही कर रही है.

  • Share this:
गया. कोंच प्रखंड के बीडीओ (BDO) राजीव रंजन की सोमवार को संदिग्ध अवस्था में मौत (Death) हो गई थी. बताया गया कि उनकी मौत छत से गिर जाने के कारण हुई. पुलिस ने घटनास्थल से एक सुसाइड  नोट (Suicide Note) भी बरामद किया. हालांकि शव की स्थिति देखने और सुसाइड नोट मिलने के बाद ये घटना संदेह पैदा करती है. संदिग्ध अवस्था में हुई बीडीओ की मौत (BDO Death) को परिवारवालों ने हत्या बताया है और एसआईटी (SIT) बनाकर इसकी जांच की मांग की है.

सुसाइड नोट सार्वजनिक करने की मांग
बता दें कि घटना के करीब 10 घंटे बाद मृतक राजीव के दो भाई समेत 20 से ज्यादा परिजन एएनएमसीएच पहुंचे और शव देखने के बाद हत्या की आशंका जताई. परिजनों ने डीएम अभिषेक कुमार सिंह से एसआईटी से जांच करवाने पांच पेज के कथित सुसाइड नोट को भी सार्वजनिक करने की मांग की.

बारीकी से जांच करने के डीएम ने दिए निर्देश

डीएम ने पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाते हुए सही जांच करवाने का आश्वासन दिया. इसके बादउनके आदेश पर एएनएमसीएच में मेडिकल बोर्ड गठित कर बीडीओ के शव का पोस्टमार्टम किया गया. डीएम ने सुसाइड नोट में लिखावट का मिलान करवाने के साथ ही अन्य बिन्दुओं की बारीकी से जांच करने का निर्देश एसएसपी राजीव मिश्रा को दिया है.

शव के पास मिला पांच पन्ने का सुसाइड नोट
बता दें कि बीडीओ राजीव रंजन के शव के पास से पांच पेज का सुसाइड नोट मिला है जिसमें पारिवारिक कलह के साथ ही जिले की वरीय अधिकारियों द्वारा तरह-तरह से मानसिक रूप से परेशान करने की चर्चा की गयी है. हालांकि पुलिस इस सुसाइड नोट को सार्वजनिक नही कर रही है. यही नहीं बुधवार को पुलिस ने मृतक की पत्नी को भी मीडिया से बात करने नहीं दी और उसे एएनएमसीएच के इमरजेंसी वार्ड के एक रूम में कस्टडी के रूप में रखा.
Loading...

आंदोलन का आह्वान कर सकता है बीडीओ संघ
वहीं, इस घटना के बाद जिले के सभी प्रखंडों के बीडीओ ने ​घटना के लिए जिला प्रशासन को मुख्य रूप से जिम्मेवार बताया है. इसको लेकर जिला बीडीओ संघ की गुरूवार को बैठक बुलायी है, जिसमें जिले के वरीय प्रशासनिक अधिकारियों की कार्यशैली के खिलाफ आन्दोलन का निर्णय लिया जा सकता है.

बीडीओ संघ ने काम का दबाव बताया मौत की वजह
दूसरी ओर बिहार BDO सेवा संघ ने राजीव रंजन की मौत को संदिग्ध बताते हुए इसकी वजह वरीय पदाधिकारियों की प्रताड़ना और काम के अधिक बोझ को भी कारण बताया है. संघ ने मौत की जांच कराने की मांग की है. गुरुवार को इसी सिलसिले मेें राज्य के सभी BDO कार्यालय में 2 मिनट मौन का आह्वान किया गया है.

हाल में ही हुई थी शादी
बता दें कि बुधवार के करीब 11 बजे कोंच के बीडीओ राजीव रंजन के रामपरु के आशा सिंह मोड़ स्थित आवास के छत से कूदकर जान देने की खबर आयी थी. गौरतलब है कि मृतक बीडीओ की शादी इसी 19 जून को हुई थी और उसकी पत्नी गया में ही इलाहाबाद बैंक में पीओ के पोस्ट पर काम कर रही हैं.

शव की स्थिति और सुसाइड नोट को लेकर सवाल
पुलिस सूत्रों के अनुसार मृतक बीडीओ राजीव रंजन ने अपने सुसाइड नोट में पारिवारिक कारणों से स्वेच्छा से सुसाइड करने की बात लिखी है और घटना के बाद परिवार के किसी भी सदस्य को परेशान नहीं करने का आग्रह किया है. हालांकि चार मंजिल ऊपर से कूदने के बाद सिर्फ सिर के पिछले हिस्से में चोट लगने से पुलिस और अन्य लोगो को कुछ भी संदेह हो रहा है, इसलिए वह हरेक एंगल से जांच करने की बात कह रही है.

ये भी पढ़ें-


नीतीश कुमार फिर बने JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष, केसी त्यागी बोले- उनमें देश चलाने की क्षमता




छठ पूजा से पहले पटना के 22 घाट खतरनाक घोषित, जानिए पूजा के लिए कहां जाना रहेगा सुरक्षित

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 6:57 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...