Lockdown के कारण ससुराल में फंसी तो फेस शील्ड बनाने लगी CRPF की ये महिला कांस्टेबल, लोग कह रहे-कोरोना वारियर
Gaya News in Hindi

Lockdown के कारण ससुराल में फंसी तो फेस शील्ड बनाने लगी CRPF की ये महिला कांस्टेबल, लोग कह रहे-कोरोना वारियर
अपने परिवार के साथ फेस शील्ड बनाती सीआरपीएफ की महिला कांस्टेबल रूबी

दिल्ली मे सीआरपीएफ (CRPF) के कांस्टेबल के पद पर कार्यरत रूबी कुमारी छुट्टी लेकर ससुराल आई थी लेकिन लॉकडॉउन (Lockdown) होने की वजह से ससुराल में ही फंस गई, अब वो कोरोना योद्धाओं के लिए घर में हीफेस शील्ड बना रही जिसमें उनका साथ सास, पति और देवर भी दे रहे हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
गया. पूरा देश इस समय कोरोना महामारी (Corona Epidemic) से एकजुट होकर लड़ रहा है. इस कड़ी में आज हम आपको आज बता रहे हैं एक ऐसी कोरोना वारियर (Corona Warrior) की कहानी जो अपनी बटालियन में नहीं रहने के बाद भी दिन रात कोरोना योद्धा की तरह काम कर रही है. इस कोरोना योद्धा का नाम है रूबी कुमारी जो सीआरपीएफ (CRPF) की महिला कांस्टेबल है. रूबी कुमारी लॉकडाउन के कारण ससुराल में फंसी तो वहीं से सेवा भाव को जारी रखा. यही कारण है कि वो कई दिनों से फेस शील्ड बना रही है और इस काम में उसका साथ सास पति औऱ देवर भी दे रहे हैं. सब मिलकर 4 से 5 सौ तक फेस शील्ड का निर्माण कर चुके हैं.

घर बैठे बनाने लगीं फेस शील्ड

इन फेस शील्ड को सड़कों पर ड्यूटी में तैनात पुलिसकर्मियों और अस्पताल में डॉक्टरों सहित कोरोना योद्धाओं को दिया जा रहा है. दरसअल दिल्ली में सीआरपीएफ में कॉन्स्टेबल के पद पर तैनात रूबी छुट्टी लेकर गया स्थित कुजापी में अपने ससुराल आई थी लेकिन देश में फैले कोरोना वायरस के कारण लॉकडॉउन हो गया जिसके बाद रूबी कुमारी गया में ही फंस गई. इस दौरान भी उसने देश की सेवा करने का जज्बा कायम रखा और ससुराल में ही इस काम में लग गई.



कोरोना वारियर्स को नि:शुल्क दिया जाएगा शील्ड



रूबी ने बताया कि ससुराल में मन नहीं लग रहा था तो सोचा कि क्यों न कोरोना यौद्धाओं के लिए मास्क का निर्माण किया जाए और सभी को ये बिना शुल्क के बांटा जाए. रूबी ने बताया कि मास्क तो सभी बना रहे है हम उनलोगों के लिए फेस शील्ड बनायेगें और ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मी, स्वास्थ्य कर्मी मीडिया कर्मी को दिया जाए. जब इस बात को उसने अपनी सास, पति और देवर को बताया तो वो लोग भी राजी हो गए और फेस शील्ड बनाना शुरू कर दिया.

सास से लेकर देवर तक का मिल रहा सहयोग

रूबी की सास मंजू देवी भी इस बात से खुश हैं कि मेरी बहू देश की सेवा भी कर रही है साथ ही कोरोना योद्धा के किये फेस शील्ड बना रही है और इसमें हमसब साथ मिलकर सहायता कर रहे हैं. रूबी के देवर यस कुमार ने बताया कि हमलोग संतोष वेलफेयर फाउंडेशन नाम का एक संस्था चलाते हैं और इस संस्था के बैनर तले फेस शील्ड का नाम संतोष वेलफेयर फाउंडेशन नाम दिया है और उसी के बैनर तले हम सब कोरोना योद्धाओं जैसे पुलिसकर्मी डॉक्टर और मीडिया कर्मियों को फेस शील्ड बांटने का काम करेंगे. हमारी इस सोच का सारा श्रेय हमारी भाभी रूबी कुमारी को जाता है.

ये भी पढ़ें- देश के 50 प्रभावशाली व्यक्तियों में शामिल हुए नीतीश, राहुल गांधी- बाबा रामदेव समेत इन दिग्गजों को पछाड़ा

ये भी पढ़ें- राबड़ी देवी ने उठाया 'साइकिल गर्ल' ज्‍योति की शादी का जिम्‍मा, बोलीं- पढ़ाई-लिखाई में भी करेंगे मदद
First published: May 25, 2020, 1:30 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading