गया हत्याकांड: लेफ्ट पार्टियों ने की CBI जांच की मांग

वहीं लेफ्ट पार्टियों की टीम ने अपनी जांच में गया पुलिस की भूमिका को संदेहास्पद बताते हुए मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की. वहीं, 16 जनवरी को गया जिलाधिकारी के समक्ष भाकपा-माले का प्रदर्शन होगा.

News18 Bihar
Updated: January 16, 2019, 3:42 PM IST
News18 Bihar
Updated: January 16, 2019, 3:42 PM IST
बिहार के गया में एक नाबालिग लड़की की हत्या की गुत्थी उलझती जा रही है. दरअसल, बिहार के गया में एक नाबालिग छात्रा की गला काटकर हत्या कर दी गई. साथ ही उसका चेहरा भी जला दिया गया. आक्रोशित परिजनों ने हत्या की बात कहते हुए पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है, लेकिन पुलिस ने इसे ऑनर किलिंग का मामला बता कर मृतक के माता-पिता एवं अन्य सहयोगियों को गिरफ्तार कर लिया है.

वहीं, गुरुवार को हत्याकांड के सिलसिले में लेफ्ट पार्टियों की जांच टीम ने गुरुवार को गया के पटवा टोली का दौरा किया और पूरे मामले की जांच की. घटना के बाद परिजनों से मिलने पहुंची भाकपा-माले की टीम ने पुलिस पर अपनी कमियों छिपाने और मनमाने ढंग से केस को डायवर्ट करने का आरोप लगाते हुए मामले की सीबीआई या न्यायिक जांच कराने की मांग की है. इस जांच टीम में इस जांच टीम में भाकपा-माले की केंद्रीय कमिटी की सदस्य और अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन (ऐपवा) की बिहार राज्य सचिव शशि यादव, माले के गया जिला सचिव निरंजन कुमार, पार्टी की राज्य कमिटी के सदस्य रामबलि सिंह यादव और गया ऐपवा की सचिव रीता वर्णवाल शामिल थीं.

गया पुलिस द्वारा इसे ऑनर किलिंग का मामला बताया गया है. वहीं लेफ्ट पार्टियों की टीम ने अपनी जांच में गया पुलिस की भूमिका को संदेहास्पद बताते हुए मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की. वहीं, 16 जनवरी को गया जिलाधिकारी के समक्ष माकपा-माले का प्रदर्शन होगा.



उधर राज्य महिला आयोग ने भी इस मामले की जांच शुरू कर दी है. राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणि मिश्रा का कहना है कि गया पुलिस से इन्होंने चार दिन पहले इस पूरे मामले को लेकर रिपोर्ट तलब की थी, लेकिन अब तक गया पुलिस ने अपनी रिपोर्ट इनके पास नहीं भेजी है. दिलमणि मिश्रा यह भी कहती हैं कि महिला आयोग की एक टीम पटवाटोली के पावरलूम भी जाएगी और जांच के बाद दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले, इसको लेकर कदम उठाएगी.

बहरहाल, अब यहां यह देखना अहम होगा कि बबिता के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में क्या तथ्य सामने आते हैं? जिस थ्योरी पर फिलहाल गया पुलिस काम कर रही वह किस हद तक सही साबित होती है.
(इनपुट- ज्योति मिश्रा)

ये भी पढ़ें-
Loading...

OPINION: गया में हुई बर्बर हत्या या ऑनर किलिंग, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलेंगे राज

गया में गैंगरेप-मर्डर या ऑनर किलिंग? मृतक लड़की के माता-पिता गिरफ्तार

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...