बिहार: नीतीश के दौरे के बीच ANMCH में दिख रही हवाई और जमीनी हकीकत

गया के ANMCH के जिस वार्ड में सीएम नीतीश आज निरीक्षण करने वाले हैं वहां तो चकाचक व्यवस्था कर दी गई है. लेकिन जिस वार्ड में सीएम के जाने का कार्यक्रम नहीं हैं वहां बदइंतजामी का आलम है.

News18 Bihar
Updated: June 20, 2019, 2:31 PM IST
बिहार: नीतीश के दौरे के बीच ANMCH में दिख रही हवाई और जमीनी हकीकत
गया के ANMCH में लावारिस पड़ा शव
News18 Bihar
Updated: June 20, 2019, 2:31 PM IST
बिहार में लू को लेकर हवाई सर्वेक्षण किए जाने को लेकर सीएम नीतीश कुमार लगातार विरोधी दलों के निशाने पर थे. कहा जा रहा था कि अगर हकीकत जाननी ही है तो उन्हें जमीन पर जाना चाहिए. यही वजह रही कि सीएम ने हवाई सर्वेक्षण से यू टर्न ले लिया और अब वे सिर्फ गया के  ANMCH जाकर लू से प्रभावित मरीजों का हाल जानेंगे. जाहिर है उनकी इच्छा जमीन पर जाकर सच जानने की है, लेकिन उनके ही अधिकारी और कर्मचारी उन्हें जमीन की हकीकत से दूर रखने की पूरी तैयारी कर चुके हैं.

एक तरफ चकाचक, दूसरी ओर बदइंतजामी
दरअसल ANMCH के जिस वार्ड में सीएम नीतीश आज निरीक्षण करने वाले हैं वहां तो चकाचक व्यवस्था कर दी गई है.  वहां अस्पताल प्रबंधन साफ-सफाई का बेहतर इंतजाम कर रही है, लेकिन जिस वार्ड में सीएम के जाने का कार्यक्रम नहीं हैं वहां बदइंतजामी का आलम है.

लावारिस शव से आ रही बदबू

रजिस्ट्रेशन काउंटर और ईएनटी वार्ड के पास पड़ा लावारिश शव इस बात का पुख्ता सबूत है कि किस तरह सीएम नीतीश को झांसे में रखने की तैयारी है. यहां आए लोगों की मानें तो रजिस्ट्रेशन काउंटर के पास एक युवक का शव कल से ही पड़ा हुआ है. इसे उठाने के लिए कई बार कहा गया, लेकिन व्यवस्था नहीं की गई.

लापरवाह अस्पताल प्रशासन
स्थानीय नर्स ने अस्पताल अधीक्षक को भी इसकी सूचना दे दी, बावजूद इसके शव वहीं रखा गया. साथ ही एक अन्य लावारिस मरीज को स्ट्रेचर पर रखकर छोड़ दिया गया . लावारिश शव और मरीज के शरीर से दुर्गंध निकल रही है. अन्य मरीज और उनके परिजन नाक पर कपड़ा रखकर रास्ता पार करने को मजबूर हैं, लेकिन सीएम नीतीश के दौरे के बावजूद अधिकारी-कर्मचारी निष्क्रिय बने हुए हैं.
लोग बदइंतजामी के लिए अस्पताल प्रबंधन को कोस रहे हैं, लेकिन सहज ही समझा जा सकता है कि जब सूबे के सीएम के आगमन की सूचना के बावजूद अस्पताल प्रशासन इस कदर लापरवाह है तो सामान्य दिनों में क्या होता होगा यह कल्पना ही किया जा सकता है.

रिपोर्ट- अरुण कुमार चौरसिया

ये भी पढ़ें-

चमकी बुखार से बिहार में 150 से अधिक मासूमों की मौत, भागलपुर में भी बरपा कहर

शर्ट-लोअर में पुलिस स्टेशन पहुंचे बिहार के DGP, फिर नप गया पूरा थाना
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...