• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • आर्मी ऑफिसर्स की पासिंग आउट परेड पर कोरोना का साया, न गेस्ट न पैरेंट्स ले सकेंगे हिस्सा

आर्मी ऑफिसर्स की पासिंग आउट परेड पर कोरोना का साया, न गेस्ट न पैरेंट्स ले सकेंगे हिस्सा

कैेडेट को सम्मानित करते अधिकारी

कैेडेट को सम्मानित करते अधिकारी

गया ओटीए में होने वाले इस पासिंग परेड के दौरान कैडेट्स के बीच की दूरियां बढा दी गयी हैं. इस बार बाहर से किसी मुख्य अतिथि को नहीं बुलाया जा रहा है और स्थानीय कमांडेंट ही मुख्य निरीक्षण अधिकारी होगें. पहली बार कैडेट्स के अभिभावक इस समारोह में उपस्थित नहीं हो पायेगें.

  • Share this:
गया. गया स्थित ओटीए (OTA, Gaya) यानी ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी में 17 वीं पासिंग आउट परेड 13 जून को आयोजित की जा रही है. इस कार्यक्रम पर भी कोविड-19 (Covid-19) का काफी असर देखा जा रहा है. मुख्य अतिथि कोविड की वजह से कैडेट्स के साथ हाथ मिलाने की परम्परा नहीं निभा पायेगें और न ही कैडेट्स के अभिभावक ही इस अवसर पर उपस्थित हो पायेगें. इस बार का पासिंग आउट परेड पिछले 16 पासिंग आउट परेड से बिल्कुल अलग होगा.

81 कैडेट्स पासिंग आउट में नहीं हो पायेगें शामिल

पासिंग आउट परेड की तैयारी की जानकारी देते हुए ओटीए गया के कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल सुनील श्रीवास्तव ने कहा कि कोविड की वजह से पूरी दुनिया के साथ ही सेना की गतिविधि और प्रशिक्षण में भी कई तरह का असर पड़ा है और उनलगों ने सरकारी की एडवायजरी का पालन करने के लिए कई तरह के कदम उठाये हैं. यही वजह है कि उनके संस्थान से कोरोना का एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिला है. इस बार के पासिंग आउट परेड में भी इसका असर दिख रहा है. पासिंग आउट की पूर्व संध्या पर होने वाली मल्टी एक्टिविटी डिसप्ले को इस बार कैंसल कर दिया गया है.

न गेस्ट आएंगे न गार्जियन्स

परेड के दौरान कैडेट्स के बीच की दूरियां बढा दी गयी हैं. इस बार बाहर से किसी मुख्य अतिथि को नहीं बुलाया जा रहा है और स्थानीय कमांडेंट ही मुख्य निरीक्षण अधिकारी होगें. पहली बार कैडेट्स के अभिभावक इस समारोह में उपस्थित नहीं हो पायेगें. उनके यहां से जून 2017 में एक साल का बुनियादी सैन्य प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले 81 कैडेट्स को भी इस बार यहां से पासिंग आउट होना था पर लॉकडाउन की वजह से वे अप्रैल माह में यहां ऩहीं आ पाये और अब वे अपने कैडेट प्रशिक्षण विंग से ही पास आउट होगें. ये सभी 81 कैडेट्स अभी सिकंदराबाद के मिलिट्री कॉलेज ऑफ इलेक्ट्रानिक्स एंड मैकनिकल इंजीनयरिंग, मऊ स्थित मिलिट्री कॉलेज ऑफ टेलीकम्युनिकेशन्स इंजीनयरिंग और पुणे स्थित कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग से तीन साल की टेक्निकल कोर्स कर रहे थे और अब वे इसी संस्थान से पास आउट होगें.

कमांडेट सम्मान समारोह में दिखी सोशल डिस्टेसिंग

पासिंग आउट परेड से पहले इस सत्र में बेहतर प्रदर्शन करने वाले कैडेट्स को कमाडेंट लेफ्टिनेंट जनरल सुनील श्रीवास्तव ने मेडल एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया. इस दौरान कोविड को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया. परम्परा के अनुसार मेडल दने के बाद कमांडेट सभी कैडेट्स से हाथ मिलाते थे पर इस बार हाथ कमांडेट ने कंधा पर हाथ रखकर हौसला बढाया. अधिकारी एवं कैडेट्स के बीच सिंटिंग अरेजमेंट में भी बदलाव किया गया जिसमें सभी को एक सीट छोड़कर बैठने की व्यवस्था की गयी थी. इस बार बेस्ट जीसी का अवार्ड शिवम साटी को दिया गया है जबकि ओवर ऑल बेहतर प्रदर्शन का खिताब जतिन शर्मा को दिया गया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज