होम /न्यूज /बिहार /गया में अगर लेना है राजस्थान के 56 प्रकार के पापड़ का स्वाद तो आएं यहां, जानें पूरी डिटेल 

गया में अगर लेना है राजस्थान के 56 प्रकार के पापड़ का स्वाद तो आएं यहां, जानें पूरी डिटेल 

इन दिनों गया के गांधी मैदान में इंटरनेशनल ट्रेड फेयर लगा हुआ है. जिसमें राजस्थानी पापड़ लोगों को खूब आकर्षित कर रहा है. ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट कुंदन कुमार
    गया. कई लोग खाना खाने के साथ या खाना खाने के बाद पापड़ खाना पसंद करते हैं, जो खाने का स्वाद ज्यादा बढ़ा देते हैं. वहीं चावल खाने वाले लोग ज्यादा पापड़ खाना पसंद करते हैं. पापड़ खाने के शौकीन लोगों के लिए खुशखबरी है. दरअसल इन दिनो गया के गांधी मैदान में इंटरनेशनल ट्रेड फेयर लगा हुआ है. जिसमें राजस्थानी पापड़ लोगों को खूब आकर्षित कर रही है. यहां 56 तरह के पापड़ मिल रहे है. राजस्थानी स्टाॅल पर 400 रुपये किलो तक अनेकों प्रकार के पापड़ उपलब्ध है.

    शाकाहारी पापड़ में अलग अलग सब्जियों का फ्लेवर
    100 फीसदी शाकाहारी पापड़ में अलग अलग सब्जियों का फ्लेवर हैं, जो इसको और स्वादिष्ट बना देता है. यहां सिंधी पापड, गार्लिक, साबूदाना, टोमैटो, चना दाल, पोटैटो, ग्रीन चीली, ऑनियन, रागी समेत कूल 56 प्रकार के पापड़ उपलब्ध है. गया तथा आसपास के जिले के लोग अगर अलग अलग फ्लेवर में पापड़ का स्वाद लेना चाहते हैं तो 7 फरवरी तक गया के गांधी मैदान में लगे इंटरनेशनल ट्रेड फेयर से इसकी खरीददारी कर सकते है.

    400 रुपये किलो है दाम
    मुम्बई से आए पापड़ कारोबारी अनिकेत कुमार ने बताया राजस्थान का प्रसिद्ध पापड़ है, जो अलग अलग सब्जियों की फ्लेवर से तैयार किया गया है. यहां 56 प्रकार के पापड़ उपलब्ध हैं. अगर आप भी शौकिन हैं तो इंटरनेशनल ट्रेड फेयर में आएं. पापड़ जरुर खरीदें. यहां 400 रुपये किलो पापड़ उपलब्ध है. यह मेला 7 फरवरी तक चलेगा.

    जानिए बनाने का तरीका
    गौरतलब हो कि पापड़ का स्वाद बेदह उम्दा लगता है.लोग इसे खाने की थाली में शामिल करना पसंद करते हैं. दाल के पापड़बहुत आसानी से बन जाते हैं. कई लोगों को पापड़ बनाना झंझट का काम लगता है लेकिन इसे आप आसानी से बना सकते हैं. दाल के पापड़ बनाने के लिए सबसे पहले काली मिर्च के दानों को मूसल में कूट लें फिर आधा कप पानी में 15-20 मिनट के लिए भिगोकर रख दें. एक कटोरे में उड़द की दाल का आटा और मूंग की दाल का आटा डाल देंगे. ऊपर से नमक, आधा पिंच हींग, 2 टेबल स्पून तेल, 2 चौथाई छोटी चम्मच बेकिंग सोडा डालकर मिक्स करेंगे. जिस पानी में हमने काली मिर्च भिगोई हुई हैं उसी पानी से इस आटे को गूंथ लें.

    पापड़ के लिए एकदम सख्त आटा गूंथ कर तैयार कर लें. अब इसे थोड़ी देर ढककर सेट होने रख दें. आटा तैयार हो जाए तो आटा को लम्बा कर लें और छोटी-छोटी लोइयां तैयार कर लें.अब चकले को तेल से ग्रीस करेंगे और लोई को पतला कर लेंगे. पापड़ को किनारे दवाब देते हुए बेलें. अब सावधानी से चकले से उठाएं और कपड़े पर डालकर सुखा लें.आप इन पापड़ों को धूप में या पंखे की हवा में भी सुखा सकते हैं. 1-2 दिन में जब पापड़ सूख जाएं तो इन्हें गर्म तेल में तलकर खाएं.

    Tags: Bihar News, Gaya news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें