लाइव टीवी

सोलर सिस्‍टम से जगमग होगा गया जंक्शन, रेलवे को सालाना होगी इतने लाख की बचत

Arun Chaurasia | News18 Bihar
Updated: December 11, 2019, 10:43 PM IST
सोलर सिस्‍टम से जगमग होगा गया जंक्शन, रेलवे को सालाना होगी इतने लाख की बचत
सोलर सिस्टम के पूरी तरह से काम शुरू करने के बाद रेलवे की बिजली विभाग पर निर्भरता कम होगी.

रेलवे (Railway) ने गया जंक्शन (Gaya Junction) को सोलर सिस्टम (Solar System) से जगमग करने का काम शुरू किया गया है. यह काम मार्च 2020 में पूरा होगा और इससे रेलवे को करीब 25 लाख रुपए सालाना की बचत होगी.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: December 11, 2019, 10:43 PM IST
  • Share this:
गया. रेलवे विभाग (Railway Department) धार्मिक नगरी गया को सुंदर आकर्षित एवं व्यवस्थित करने के लिए कई कदम उठा रहा है. इसके तहत गया जंक्शन (Gaya Junction) को सोलर सिस्टम (Solar System) से जगमग करने का काम शुरू किया गया है. पहले फेज में गया जंक्शन पर 330 किलोवाट के लिए सोलर सिस्टम लगाया जा चुका है, जिसमें से अभी 220 किलोवाट बिजली मिल रही है. यह सिस्टम पूरी तरीके से साल के अंत तक पूरा हो जाएगा और 1 जनवरी से सोलर सिस्टम से 330 किलोवाट बिजली मिलने लगेगी. दूसरे फेज में मार्च 2020 तक 735 किलोवाट तक विद्युत उत्पन्न करने की योजना को मंजूरी दी गयी है, जिस पर कुछ ही दिन नें काम शुरू किया जाएगा और 735 किलोवाट विद्युत उत्पादन (Power Generation) होने पर गया जक्शन की साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन पर से निर्भरता खत्म हो जाएगी.

यहां लगाए गए हैं सोलर सिस्‍टम
सोलर सिस्टम से विद्यत उत्पादन के लिए स्टेशन के वेंटिग रूम एवं भवनों पर प्लेट स्थापित किए गए हैं और इसे सुरक्षित रखने के लिए ऊपर जाने वाली सीढ़ियों को बंद कर दिया गया है. इसके बाद प्लेटफार्म के शेड और शेष भवनों की छतों पर सोलर प्लेट लगाए जाएंगे. सोलर प्लेट लगाने का काम रेलवे के इंजीनयरिंग विभाग की देख-रेख देश की नामचीन एजेंसी कर रही है.

सोलर सिस्टम से रेलवे को होगा ये फायदा

सोलर सिस्टम के पूरी तरह से काम शुरू करने के बाद रेलवे की बिजली विभाग पर निर्भरता कम होगी. अभी साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड 7 रुपये प्रति यूनिट रेलवे को मुहैया करा रही है और 40 से 45 लाख प्रति महीना बिल जमा करना होता है. जबकि सोलर सिस्टम से इसे 4 रुपये प्रति यूनिट से खर्च आएगा. इससे विभाग को सालाना कम से कम 25 लाख की बचत होगी.

स्‍टेशन के लिए किया गया है ये काम
सोलर सिस्टम से बिजली आपूर्ति की योजना शुरू करने से पहले गया जंक्शन को सुदंर आकर्षक और मॉडल बनाने के लिए कई कदम उठाये गए हैं. यहां के मुख्य द्वार पर महाबोधी मंदिर, गौतम बुद्ध और विष्णुचरण की आकृति बनाई गयी है, जो रात में लाइटिंग के दौरान लोगों को काफी आकर्षित करती है. स्टेशन पर उतरते ही तीर्थयात्रियों एवं पर्यटकों को गया के धार्मिक महत्व का अहसास होने लगता है. इसके साथ ही यहां बहुमंजिल भवन बनाया गया है, जिसमें होटल रेस्टोरेंट के साथ ही अन्य दुकानें शुरू की जा रही हैं. जबकि टिकट और आरक्षण के लिए नया भवन बनाया गया है. वहीं एक नंबर प्लेटफार्म पर एस्केलेटर लगाया गया है और परिसर से लेकर सभी प्लेटफार्म पर ओवरब्रिज पर चढ़ने के लिए लिफ्ट लगाने का काम चल रहा है. यही नहीं, रेलवे थाना एवं डीएसपी ऑफिस समेत रेलवे के बहुमंजिला क्वार्टर का भी निर्माण चल रहा है.ये भी पढ़ें-

बिहार के हक का पानी हो रहा है 'चोरी'- MP राजीव प्रताप रूडी

2.7 लाख निर्माण श्रमिकों की 'सेहत' सुधारने में जुटी बिहार सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 10:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर