गया हत्याकांड: मृतका की बहन का दावा- पुलिस ने टॉर्चर कर दर्ज किया झूठा बयान

मृतका की बहन ने पुलिस पर टॉर्चर कर झूठा बयान दर्ज करने का आरोप लगाया है. वहीं, पुलिस ने इसे ऑनर किलिंग का मामला बता कर मृतका के माता-पिता और मृतका के पिता के दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है.

News18 Bihar
Updated: January 18, 2019, 9:09 PM IST
News18 Bihar
Updated: January 18, 2019, 9:09 PM IST
बिहार के गया में एक नाबालिग लड़की की हत्या की गुत्थी उलझती जा रही है. दरअसल, गया के बुनियादगंज थाना के पटवा टोली से 28 दिसंबर से लापता नाबालिग लड़की का शव 6 जनवरी को पटवा टोली के कुछ दूर नदी के किनारे झाड़ी में मिला था. मृतका की बहन ने पुलिस पर टॉर्चर कर झूठा बयान दर्ज करने का आरोप लगाया है. वहीं, पुलिस ने इसे ऑनर किलिंग का मामला बता कर मृतका के माता-पिता और मृतका के पिता के दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है.

गया के एसएसपी राजीव मिश्रा ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसे ऑनर किलिंग बताया था. एसएसपी के अनुसार मां और बड़ी बहन ने मृतक के 31 दिसंबर को लौटने की बात स्वीकर की है, लेकिन पहले के बयानों में वे इस बात को छिपा रहे थे.

वहीं, पुलिस हिरासत से छूटने के बाद मृतका की बहन ने बताया कि पुलिस ने टॉर्चर करके झूठा बयान दर्ज किया है. पापा-मम्मी को भी पुलिस ने बहुत पीटा. उसने बताया कि मुझसे जबरन कहलवाया गया कि मृतका 31 दिसंबर की रात में घर आई थी जिसके बाद पापा ने अपने दोस्त के साथ भेज दिया था.



दूसरी ओर, मृतका के माता-पिता और अन्य को कथित तौर पर फंसाए जाने के विरोध में पटवा टोली के लोग शुक्रवार से 15 हजार पावरलूम बंद कर हड़ताल पर चले गए. वस्त्र उद्योग बुनकर सेवा समिति के अध्यक्ष प्रेम प्रकाश पटवा ने बताया कि पुलिस ने अपने बचाव के लिए निर्दोष को फंसा दिया है जिसके विरोध में 15 हजार पावरलूम में काम करने वाले 45 हजार बुनकर मजदूर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं. उन्होंने इस घटना की जांच सीबीआई या अन्य एजेंसियों से कराने की मांग की है.

(इनपुट- एलेन लिली)

ये भी पढ़ें-

OPINION: गया में हुई बर्बर हत्या या ऑनर किलिंग, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलेंगे राज
Loading...

गया में गैंगरेप-मर्डर या ऑनर किलिंग? मृतक लड़की के माता-पिता गिरफ्तार

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...