क्वारेंटाइन सेंटर के लोगों को ले जा रहे बस से चेक पोस्ट पर मांगे 40 हजार रुपए, कर्मी के खिलाफ FIR दर्ज
Gaya News in Hindi

क्वारेंटाइन सेंटर के लोगों को ले जा रहे बस से चेक पोस्ट पर मांगे 40 हजार रुपए, कर्मी के खिलाफ FIR दर्ज
गया का टोल नाका

सितंबर 2018 में भी तत्कालीन मगध आयुक्त ने यहां औचक निरीक्षण में कई गड़बड़ियां पायी थी जिसके बाद कई कर्मियों पर कार्रवाई की गयी थी.

  • Share this:
गया. बिहार के गया में दिल्ली के क्वारेंटाइन सेंटर्स से रांची जा रही दो बसों से 40 हजार रूपए के अवैध डिमांड का मामला सामने आया है. इसकी शिकायत मिलने पर गया जिला प्रशासन ने डोभी चेकपोस्ट के प्रधान सहायक श्रीनिवास शर्मा के खिलाफ बाराचट्टी थाना में एफआईआर करवाई है. जानकारी के अनुसार दिल्ली के मजिस्ट्रेट के आदेश पर दो बसें वहां के क्वॉरेंटाईन सेंटर्स से झारखंड के लोगों को लेकर रांची जा रही थी. इन दोनों बसों को डोभी चेकपोस्ट पर रोक लिया गया. बस के ड्राइवर से चेक पोस्ट पार करने के एवज मे 20-20 हजार की राशि की मांग की गई.

मजिस्ट्रेट के लिखित आदेश की कॉपी को भी नकारा

एक बस के ड्राइवर मोहम्मद आसिफ ने बताया कि दिल्ली के मजिस्ट्रेट के लिखित आदेश पर वहां के क्वॉरेटाइन सेंटर से दो बसों से झारखंड के यात्रियों को लेकर रांची जा रहे थे. मजिस्ट्रेट का कागजात दिखाने के बाद भी उन्हें चेकपोस्ट पार करने नहीं दिया गया और 20-20 हजार की अवैधा राशि की डिमांड की गयी. इसकी सूचना उन्होंने अपने बस मालिक को दी. बस मालिक ने दिल्ली के अधिकारियों से बात की और इसकी सूचना यहां के जिला प्रशासन को दी. इस दौरान करीब ढाई घंटे तक उनके बस को रोक कर रखा गया जिससे यात्रियों को काफी परेशानी उठानी पड़ी क्योंकि बस में पुरूष के साथ ही महिलायें और बड़ी ख्या में बच्चे भी थी जिन्होंने खाना तक नहीं खाया था.



दिल्ली से रांची जा रही थी बस
बस की महिला यात्री निरूपा ने बताया कि वो लोग दिल्ली के क्वॉरिंटाइन सेंटर से रांची जा रहे हैं. बस ड्राइवर ने बाराचट्टी में खाना खिलाने की बात कही थी और इस बीच डोभी चेक पोस्ट पर ही बस को रोक कर पैसे का डिमांड किया जाने लगा. भीषण गर्मी में कई घंटे तक बस के खड़े रहने से बच्चें भूख और प्यास से काफी परेशान हो रहे थे.

डीएम के आदेश पर हुई कार्रवाई

इस मामले में बाराचट्टी के बीडीओ पंकज कुमार ने बताया कि डीएम अभिषेक सिंह के निर्देश के बाद वे डोभी चोकपोस्ट पर जांच करने पहुंचे थे और बस मालिक और यात्रियों की शिकायत सही पायी गयी. डोभी चेक पोस्ट के प्रधान सहायक ने अपने कर्तव्य में लापरवाही बरतते हुए बस के बेवजह घंटो रोक कर रखा था इसलिए प्रधान सहायक के खिलाफ बाराचट्टी थाना में एफआईआर कराया गया है वहीं थानाध्यक्ष शौरभ कुमार ने बताया कि प्रधान सहायक के साथ ही उनके सहयोगियों की भूमिका की जांच की जा रही है और दोषी पाये जाने पर विधि सम्मत कार्रवाई की जायेगी.

डोभी चेक पोस्ट के अधिकारियों पर पहले भी हो चुकी है कार्रवाई

दिल्ली से कोलकाता को जोड़ने वाले एनएच-2 जीटी रोड में गया जिला क्षेत्र के डोभी में समेकित जांच चौकी बनाई गयी है जहां ओवरलोडेड गाड़ी एवं अन्य जरूरी कागजात की जांच की जाती है पर जांच के नाम पर यहां के अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्ववारा अवैध वसूली और मनमानी की शिकायत आते रहती है. सितंबर 2018 में तत्तकालीन मगध आयुक्त ने यहां औचक निरीक्षण में कई गड़बड़ियां पायी थी जिसके बाद कई कर्मियों पर कार्रवाई की गयी थी. इसके साथ ही कई बार यहां तैनात पुलिस पदाधिकारी एवं जवानों पर अवैध वसूली की शिकायत पर निलंबन आदि की कार्रवाई की गयी है. इसके साथ ही यहां पैसे लेकर ओवर लोडेड गाड़ी और शराब तस्करी में लगी गाड़ियों को छोड़ने की शिकायत मिलती रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading