लाइव टीवी

कचरे के सामान से बनाया पार्क, बना आकर्षण का केंद्र

News18 Bihar
Updated: October 26, 2019, 5:05 PM IST
कचरे के सामान से बनाया पार्क, बना आकर्षण का केंद्र
गया के स्टेशन रोड में एक ऐसा पार्क है जो हमारे फेंके हुए कचरे से तैयार किया गया है.

यह कचरा पार्क गया (Gaya) स्टेशन रोड स्थित नगर निगम भंडार गृह में बनाया गया है जहां कुछ महीने पहले यहां गंदगी का अंबार लगा हुआ रहता था.

  • Share this:
गया. आपने पार्क तो कई देखा होगा लेकिन हम आपको एक ऐसा पार्क (Park) दिखा रहे हैं जो हमारे द्वारा फेंके गए सामान यानी कचरा (Garbage) से तैयार किया गया है. सुनकर थोडा अटपटा लगेगा लेकिन यह सही है. बिहार (Bihar) के गया (Gaya) में इसका निर्माण नगर निगम के वार्ड निरीक्षक चंद्र मोहन उर्फ पिंटू ने किया है. पार्क में प्रत्येक दिन कुछ नया देखने को मिलता है. इस पार्क का नाम कचरा पार्क दिया गया है.

गया के स्टेशन रोड में है 'कचरा पार्क'
यह कचरा पार्क गया स्टेशन रोड स्थित नगर निगम भंडार गृह में बनाया गया है जहां कुछ महीने पहले यहां गंदगी का अंबार लगा हुआ रहता था. यहां पर कोई कर्मचारी बैठने को तैयार नहीं रहते थे. चंद्र मोहन ने फेंके गए कूड़े-कचरे से महत्वपूर्ण चीजें निकालकर एक जगह इकट्ठा कर एक सुंदर पार्क का निर्माण किया है. इनके साथ अन्य कर्मचारियों ने पार्क बनाने के लिए साथ दिया है. आज यहां एक खूबसूरत पार्क का निर्माण हो चुका है. यह लोगों के आकर्षण का केंद्र बन गया है.

टायर से बनी दीवाल घड़ी आकर्षण का केंद्र

पार्क में सबसे अधिक आकर्षण का केंद्र टायर से बनी दीवाल घड़ी, ट्रक के फिल्टर से बने ट्रेन, चाय पीकर फेंकी गई प्याली से घंटा घर, पार्क में बेहतरीन घास और कई प्रकार के गुलाब के फूल भी अपनी ओर खींचता है. पार्क में ट्रक के बॉडी को सेल्फी पॉइंट का नाम दिया गया है. साथ ही पार्क को सजाने का काम कई तरह के बेकार पड़े खिलौने से किया गया है. इस पार्क में टायर, टीवी, कैमरा, घड़ी, रंगीन पत्थर, फूलों की टहनी, ट्रॉली का झूला, गमला टेडी बियर, शोरूम में लगे मोम की प्रतिमा आदि का प्रयोग किया गया है.

कोयले के पत्थर से बनाया पहाड़ 
कचरा पार्क में कोयले के पत्थर से पहाड़ बनाया गया है, उसके ऊपर और नीचे एक झरना लगाया गया है. पहाड़ के ऊपर से हमेशा पानी गिरते रहता है. पार्क को रंगीन बल्बों से सजाया गया हैय यह शाम ढलते ही रंगीन रोशनी से जगमगाने लगता है. लोहे और बांस से पार्क का प्रवेश द्वार बनाया गया है.
Loading...

चंद्र मोहन बताते हैं कि यहां निगम का स्टोर है. पहले यहां गंदगी रहती थी जिस कारण निगम कर्मी आने से यहां कतराते थे तभी मैंने इस पार्क के सुंदरीकरण करने को ठान ली. कचरे से पार्क का निर्माण पिछले वर्ष अगस्त में प्रारंभ किया था. प्रेस से निकलने वाली उपयोगी वस्तुओं को छांट कर अलग रखने लगे. बिना रुपए खर्च किए इसी सामग्री से अनोखा पार्क बना दिया. कचरे में बहुत सारी ऐसी सामग्री होती है जिससे हम उपयोग में ला सकते हैं.

निगम स्टोर में रहे कर्मचारी संजय कुमार ने बताया कि जब हम घर या सड़कों पर से कचरा को उठाते हैं उसमें से जो महत्वपूर्ण चीजें देखने को मिलता है, उसे हम उठा कर इस पार्क में सजावट के रूप में रख देते हैं. ऐसी कई वस्तुएं हमने कचरे से निकाला है जो आज इस खूबसूरत पार्क में देखने को मिल रहा है.

इस कचरा पार्क में मेयर डिप्टी मेयर आयुक्त कर्मचारियों के साथ बैठक भी करते हैं. इस पार्क को देखने के बाद आप भी यह सोचने को मजबूर हो जाएंगे की बेकार चीजों के इस्तेमाल किस खूबसूरती से किया गया है. सड़क के किनारे पड़े कचरे या बेकार सामान का इससे बेहतर और क्या इस्तेमाल हो सकता है.

(रिपोर्ट- एलन लिली)

ये भी पढ़ें-

पार्टी की हार पर JDU विधायक खुश, हाथी पर चढ़कर मनाया जश्न, जानें पूरा मामला

पेड़ काटने वालों पर 'मर्डर केस' करने की मांग कर रहे हैं लोग, दी ये चेतावनी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 26, 2019, 5:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...