गया: तीन बच्चों में जापानी इन्सेफेलाइटिस की पुष्टि

गया स्थित ANMMCH में अभी तक एएईएस एवं जेई के 23 संदिग्ध मरीज भर्ती करवाए गए. इनमें से छह बच्चों की मौत हो चुकी है और और इलाजरात तीन बच्चों में जापानी इन्सेफेलाइटिस की पुष्टि हुई है.

News18 Bihar
Updated: July 11, 2019, 7:36 AM IST
गया: तीन बच्चों में जापानी इन्सेफेलाइटिस की पुष्टि
गया में जापानी इन्सेफेलाइटिस से तीन बच्चों के मौत की पुष्टि
News18 Bihar
Updated: July 11, 2019, 7:36 AM IST
गया के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल यानी ANMMCH में इलाजरत तीन बच्चों में जापानी इंसेफलाइटिस की पुष्टि हुई है जबकि एक बच्चे में चिकनगुनिया की पुष्टि हुई है. इस बात की जानकारी बोधगया में एईएस एवं जेई बीमारी को लेकर आयोजित प्रमंडल स्तरीय कार्यशाला में दी गयी.

महाबोधि होटल में बुधवार को आयोजित कार्यशाला में इन बीमारियों से बचाव के लिए जागरूकता से लेकर बच्चों के अस्पताल लाने और वहां बेहतर इलाज देने की चर्चा की गयी.

गौरतलब है कि गया स्थित ANMMCH  में अभी तक गया जिला के 18 और औरंगाबाद जिला के 5 यानी कुल 23 मरीज एएईएस एवं  जेई के संदिग्ध मरीज भर्ती करवाए गए. इनमें से कुल छह बच्चों की मौत हो चुकी है और और इलाजरात तीन बच्चों में जेई की पुष्टि हुई है.

गया के ANMMCH में जापानी इन्सेफेलाइटिस और AES से पीड़ित बच्चों का इलाज


कार्यशाला में बताया गया कि आईसीडीएस और यूनेसफ के द्वारा बीमारी के प्रति जागरूता पर काम किया जायेगा जबकि स्वास्थ्य विभाग  ​टीकारकरण एवं इलाज तो लेकर बेहतर काम करेगा.

इस वर्कशॉप में मगध आयुक्त के साथ ही प्रमंडल के सभी डीएम,सिविल सर्जन के साथ ही स्वास्थय एवं अन्य विभाग के अधिकारी शामिल हुए.

रिपोर्ट- अरुण कुमार चौरसिया
Loading...

ये भी पढ़ें-


शादी समारोह में काल बना ट्रक, आठ लोगों को कुचलकर मार डाला




सुर्खियां: बिहार में अपराधी बेखौफ, कई जिलों में भारी बारिश के आसार

बिहार: हाथों में डिब्बे लिए खुले में शौच को मजबूर महिलाएं और ODF घोषित हो रहे जिले दर जिले

JDU ने क्यों ठुकराया RJD का ऑफर? पढ़ें 5 वजह

First published: July 11, 2019, 7:33 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...