लाइव टीवी

नदी की तेज धार में बहे एक ही परिवार के तीन लोग, चौथे बच्चे को ग्रामीणों ने बचाया

News18 Bihar
Updated: October 3, 2019, 11:30 AM IST
नदी की तेज धार में बहे एक ही परिवार के तीन लोग, चौथे बच्चे को ग्रामीणों ने बचाया
गया में हुए हादसे के बाद घटनास्थल पर जमा लोगों की भीड़

गया में हुए इस हादसे में अभी तक एक बच्चे का शव नहीं मिल सका है. मृतकों के आश्रितों को चार-चार लाख रुपए का मुआवजा देने का ऐलान किया है.

  • Share this:
गया. बिहार के गया (Gaya) में एक दुखद घटना सामने आयी है. यहां हुए एक हादसे में एक ही परिवार की महिला और दो बच्चों की नदी में डूबने (Drown) से मौत हो गई जबकि एक बच्चे को ग्रामीण बचाने में सफल रहे. घटना वजीरगंज थाना क्षेत्र के अमैठी पंचायत के आरोपुर गांव की है. मृतकों में वीरेन्द्र सिंह की पत्नी रीना देवी, रामा सिंह की पुत्री अमीषा कुमारी, पिंटू सिंह का पुत्र पीयूष कुमार शामिल हैं. इनमें से एक बच्चा पीयूष कुमार का शव नदी में ही बहता चला गया जो गुरुवार को नदी से एक किलोमीटर दूर मिला शव की खोजबीन करने में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ टीम को खासी मशक्कत करनी पड़ी.

नदी में कपड़े धोने गई थी महिला

घटना की जानकारी देते हुए वजीरगंज के बीडीओ आनंद प्रकाश ने बताया कि महिला अपने बच्चों के साथ गांव के किनारे से निकलने वाली मंगुरा नदी के तट पर नहाने और कपड़े धोने गई थी. वो कपड़े धो ही रही थी कि तभी एक बच्चा नदी की धार में चला गया. बच्चे पर नजर पड़ने पर महिला उसे बचाने के लिए बीच नदी में चली गयी जिससे दोनों की मौत हो गई. महिला के पीछे 12 वर्षीय किशोरी अमीषा कुमारी ने भी नदी में छलांग लगा दी, लेकिन वो बचाने के बजाय खुद भी डूब गई जिसके शव को ग्रामीणों ने बाहर निकाला.

मृतकों के परिजन को मुआवजा

इस बड़े हादसे से आरोपुर सहित पूरे इलाके में मातमी सन्नाटा पसर गया है. वजीरगंज बीडीओ, सीओ, डीएसपी, एनडीआरएफ की टीम के साथ ही स्थानीय गया सांसद विजय मांझी ने परिवार का ढांढस बंधाया है.अंचलाधिकारी विजेन्द्र कुमार ने बताया कि सभी कागजी एवं कानूनी कार्रवाई के बाद मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए का आर्थिक मुआवजा देने का आश्वासन दिया गया है.

पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे मंत्री

प्रशासन द्वारा पारिवारिक लाभ योजना के तहत मृतक के परिवार को 20 हजार की सहायता राशि दी गई है और पोस्टमार्टम के बाद आपदा विभाग की तरफ से 4-4 लाख की सहायता राशीि दी जायेगी. घटना की सूचना के बाद आज बिहार सरकार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने मौके का दौरा किया और पीड़ित परिवार से मुलाकात कर ढांढस बंधाया.रिपोर्ट- अरूण चौरसिया

ये भी पढ़ें- बैंक कर्मचारी ने ही रची साढ़े 13 लाख रुपए के फर्जी लूट की साजिश, एक चूक ने कराया गिरफ्तार

ये भी पढ़ें- उफनती नदी में गिरे पूर्व केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव, किसी तरह बची जान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 3, 2019, 9:19 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर