लाइव टीवी

बुद्ध नगरी हुई शर्मसार, महाबोधि मंदिर में दो बौद्ध भिक्षु भिड़े

News18 Bihar
Updated: October 13, 2019, 11:38 PM IST
बुद्ध नगरी हुई शर्मसार, महाबोधि मंदिर में दो बौद्ध भिक्षु भिड़े
महाबोधि मंदिर में लड़ते भिक्षु

महाबोधि मंदिर (Mahabodhi Temple) परिसर में रविवार को अहिंसा का उपदेश देने वाले दो बौद्ध भिक्षु हिंसा पर उतर गए.

  • Share this:
गया. भगवान बुद्ध की पावन नगरी तब शर्मसार हो गई, जब बोधगया (Bodh Gaya) के विश्वविख्यात महाबोधि मंदिर (Mahabodhi Temple) के परिसर में रविवार को दो बौद्ध भिक्षु (Monk) हिंसा पर उतर आए. इस मामले में महाबोधि मंदिर के मुख्य पुजारी भिक्षु चालिंदा ने बोधगया थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है.

जानकारी के मुताबिक, महाबोधि मंदिर में रविवार को उस समय अफरातफरी की स्थिति पैदा हो गई जब जब दो बौद्ध भिक्षुओं के बीच जबरदस्त मारपीट हुई. दरअसल, चीवर दान कार्यक्रम के दौरान रविवार को सैकड़ों बौद्ध भिक्षुओं ने महाबोधि मंदिर परिसर में विशेष पूजा की, वहीं पूजा में बैठने को लेकर दो बौद्ध भिक्षु आपस में भीड़ गए. अन्य बौद्ध भिक्षुओं ने हस्तक्षेप कर दोनों को शांत कराया, फिर पूजा शुरू हुई.

मारपीट की पुष्टि करते हुए थानाध्यक्ष मोहन कुमार सिंह ने कहा कि पूजा में बैठने को लेकर बौद्ध भिक्षु आपस में लड़ गए. हालांकि दूसरे बौद्ध भिक्षु ने मामले को शांत कराया. सीसीटीवी के फुटेज के आधार पर कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि बौद्ध भिक्षुओं के लिए वर्षावास बहुत महत्वपूर्ण है. 16 जुलाई से 13 अक्टूबर तक वर्षावास चलता है. बौद्ध भिक्षु वर्षावास में बौद्ध कुटिया या बौद्ध विहार में आषाढ़ पूर्णिमा से लेकर कार्तिक पूर्णिमा तक रहते हैं, पूरे तीन माह तक एक वक्त भोजन कर साधना और अध्ययन में लगे रहते हैं. वर्षावास के समाप्ति पर बौद्ध भिक्षु धर्म प्रचार के लिए निकलते हैं. यह परंपरा ढाई हजार साल पुरानी है. वर्षावास समाप्ति के बाद 1 माह तक बौद्ध भिक्षुओं के लिए चीवर दान कार्यक्रम आयोजित किया जाता है.

(रिपोर्ट- एलन लिली)

ये भी पढ़ें-

ज्ञान और मोक्ष की भूमि गया के 155 साल पूरे, इस बार खास होगा उत्सव
Loading...

उमा भारती ने फल्गु नदी में अपने पितरों का किया तर्पण

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 9:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...