डबल मर्डर की घटना से सहमा गया, शराब कारोबारी और सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या

हत्या की पहली घटना गुरुआ थाना क्षेत्र के दरिऔरा और दूसरी घटना परैया थाना क्षेत्र के उपरौली गांव की है.

News18 Bihar
Updated: May 15, 2019, 10:05 AM IST
डबल मर्डर की घटना से सहमा गया, शराब कारोबारी और सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या
हत्या के बाद घटनास्थल पर जमा भीड़
News18 Bihar
Updated: May 15, 2019, 10:05 AM IST
बिहार के गया में अपराधियों ने हत्या की दोहरी वारदात को अंजाम दिया है. पहली घटना गुरुआ थाना क्षेत्र के दरिऔरा में हुई जहां आमस थाना क्षेत्र के कसियाडीह गांव निवासी उमेश कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी गई.

पुलिस को घटनास्थल से एक ऑटो भी मिला है जिसमें भारी मात्रा में देसी शराब लदा हुआ है. जानकारी के अनुसार मृतक उमेश शराब के अवैध कारोबार से जुड़ा हुआ था और वो झारखंड से शराब लाकर गया जिला में उसका व्यवसाय करता था. मंगलवार की रात वो शराब डिलीवरी के लिए गुरुआ की तरफ जा रहा था इसी दौरान रास्ते में ही उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गयी.



येये भी पढ़ें- नवादा में हादसे का शिकार हुई पटना से रांची जा रही बस, दो दर्जन यात्री जख्मी

परिजनों भी स्वीकार किया है कि मृतक उमेश शराब के अवैध कारोबार से जुड़ा हुआ था. पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए एएनएमसीएच भेज दिया है. पुलिस उन चार लड़कों की तलाश कर रही है जिसने बीती देर रात मृतक उमेश के घर जाकर परिजनों को हत्या होने की सूचना दी थी.

ये भी पढ़ें- बिहार में कंस्ट्रक्शन कंपनी की साइट पर नक्सलियों का हमला

हत्या की दूसरी घटना परैया थाना क्षेत्र के उपरौली गांव के नदी किनारे हुई जहां के सामाजिक कार्यकर्ता रामकुमार सिंह की गला दबाकर हत्या की गई है और हत्या के बाद ईंट-पत्थर से उनका चेहरा कुचल दिया गया. परिजनों के अनुसार बीती रात मोबाइल पर फोन करके मृतक रामकुमार सिंह को बुलाया गया था. जानकारी के अनुसार मृतक को पहले शराब पिलाई गई और उसके बाद उनकी गला दबाकर हत्या कर दी गई. हत्यारों ने पहचान छिपाने के लिए मृतक के चेहरे को ईंट-पत्थर से कुचल दिया. घटना की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची है. पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में ले लिया है और छानबीन में जुट गई है.

रिपोर्ट- अरूण चौरसिया
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...