Home /News /bihar /

another poisonous liquor incident in bihar so far 5 people died many sick in gopalganj jhnj

बिहार में एक और जहरीली शराब कांड, 24 घंटे में 5 लोगों की मौत, कई बीमार

गोपालगंज में जहरीली शराब से अबतक 5 लोगों की मौत हो चुकी है.

गोपालगंज में जहरीली शराब से अबतक 5 लोगों की मौत हो चुकी है.

Gopalganj Poisonous Liquor Death: गोपालगंज के बैकुंठपुर थानाक्षेत्र के बसहां गांव निवासी देवेंद्र शर्मा तथा रमेश महतो समेत कई लोगों ने शुक्रवार शाम को शराब का सेवन किया था. रात होते-होते ही सभी की तबीयत बिगड़ने लगी. शनिवार की सुबह तक एक साथ चार लोगों की मौत हो गई है, जबकि एक व्यक्ति बहारन मियां की शनिवार शाम को इलाज के दौरान मौत हो गयी. कई अन्य की स्थिति नाजुक बतायी जा रही है.

अधिक पढ़ें ...

गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर पांच हो गई है, जबकि कई लोग अभी भी बीमार हैं. मामला बैकुंठपुर थानाक्षेत्र के अलग-अलग गांवों का है. एक साथ पांच लोगों की मौत से पूरे जिले में हड़कंप मच गया है. मृतकों में बसहां गांव के रामचंद्र शर्मा के 35 वर्षीय पुत्र देवेंद्र शर्मा, बहारन महतो के 48 वर्षीय पुत्र रमेश महतो, एकडेरवां गांव के रामसुंदर सिंह के पुत्र 65 वर्षीय राजेश्वर सिंह, सोनवलिया कोडर गांव के जेके यादव और सिरसा सर्वोदय टोला के 50 वर्षीय बहारन मियां शामिल हैं. हालांकि जिला प्रशासन ने शराब से मौत से इंकार किया है.

जानकारी के मुताबिक बैकुंठपुर थाना क्षेत्र के बसहां गांव निवासी देवेंद्र शर्मा तथा रमेश महतो समेत कई लोगों ने शुक्रवार की शाम को एक साथ शराब का सेवन किया था. जिसके बाद रात होते-होते ही सभी की तबीयत बिगड़ने लगी. शनिवार की सुबह तक चार लोगों की मौत हो गई है, जबकि एक व्यक्ति बहारन मियां की शनिवार शाम में इलाज के दौरान मौत हो गयी. कई अन्य की स्थिति नाजुक बतायी जा रही है.

इस घटना की सूचना पूरे इलाके में आग की तरह फैल गई है. मृतक देवेंद्र शर्मा के पिता रामचंद्र शर्मा और रमेश महतो की पत्नी प्रमीला देवी ने कहा कि रात में शराब का सेवन कर घर आये थे. जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां मौत हो गयी. वहीं देवेंद्र शर्मा के पिता रामचंद्र शर्मा ने स्थानीय मुखिया और पुलिस पर जबरन अंगूठा का निशान लेकर शराब से मौत नहीं होने की बात कहने के लिए दबाव बनाने का आरोप लगाया है.

इधर, शराब से चार लोगों की मौत के बाद जिला प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया. डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी के निर्देश पर सदर एसडीओ प्रदीप कुमार और एसडीपीओ संजीव कुमार के नेतृत्व में प्रशासन की टीम घटनास्थल पर पहुंचकर जांच की. डीएम ने कहा कि जिला प्रशासन के पास शराब से मरने की कोई सूचना नहीं मिली है, लेकिन मीडिया के माध्यम से खबर मिली है.

डीएम ने कहा कि यदि मामला सही पाया जाता है तो दोषियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जायेगी. बैकुंठपुर के इलाके में शुक्रवार को शराब को लेकर छापेमारी की गयी थी. इसके अलावा ड्रोन से इलाके का सर्वे भी कराया जा रहा है, ताकि शराब के ठिकानों का पता लगाकर ध्वस्त किया जा सके.

वहीं बिहार सरकार के मद्य निषेध उत्पाद एवं निधंबन मंत्री सुनील कुमार ने कहा कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी कानून लागू है. ऐसे में किसी के बहकावे में आकर शराब या अन्य गलत पदार्थों का सेवन न करें. साथ ही यदि कोई शराब या अन्य प्रतिबंधित सामानों की कालाबाजारी करता है तो इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दें. पुलिस तत्काल कार्रवाई करेगी.

गोपालगंज में कब-कब हुआ जहरीली शराबकांड

02 नवंबर 2021- महम्मदपुर थाने के महम्मदपुर गांव में 21 लोगों की मौत हुई थी. प्रशासन ने 14 लोगों के मरने की पुष्टि की थी.

20 फरवरी 2021- विजयीपुर थाने के मझवलिया में जहरीली शराब से 6 लोगों की जान गई थी.

15 अगस्त 2016- शराबबंदी कानून लागू होने के बाद नगर थाने के खजूरबानी में जहरीली शराब से 19 लोगों की मौत हुई थी.

Tags: Bihar News, Gopalganj news, Poisonous Liquor

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर