कुचायकोट विधानसभा सीट: क्या जेडीयू बरकरार रख पाएगी अपनी जीत?

इस बार कौन जीतेगा कुचायकोट सीट
इस बार कौन जीतेगा कुचायकोट सीट

Bihar Assembly election 2020: पिछले विधानसभा चुनाव में अमरेंद्र ने 3562 वोटों से लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के उम्मीदवार काली प्रसाद पांडेय को हराया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 11:09 PM IST
  • Share this:
गोपालगंज. बिहार (Bihar) की राजनीति में कुचायकोट विधानसभा क्षेत्र (kuchaikote Assembly Constituency) की खासी अहमियत रही है. इस बार भी इस विधानसभा सीट पर दमदार मुकाबला देखने को मिल सकता है. साल 2015 के विधानसभा चुनाव में जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के खाते में ये सीट गई थी. इस सीट पर जेडीयू के अमरेंद्र कुमार पांडेय ने जीत हासिल की थी.

अमरेंद्र कुमार पांडेय बिहार की कुचायकोट विधानसभा सीट से मौजूदा विधायक हैं. पिछले विधानसभा चुनाव में अमरेंद्र ने 3562 वोटों से लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के उम्मीदवार काली प्रसाद पांडेय को हराया था. वहीं इस सीट पर 2015 में तीसरे नंबर पर नोटा को सबसे ज्यादा वोट मिले थे.

कुचायकोट विधानसभा बिहार के गोपालगंज जिले में स्थित है. 2011 की जनगणना के अनुसार यहां कुल 431974 जनसंख्या में से 100% ग्रामीण है. अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) का अनुपात कुल जनसंख्या से क्रमशः 12.4 और 3.38 है. 2019 की मतदाता सूची के अनुसार इस निर्वाचन क्षेत्र में 315244 मतदाता और 335 मतदान केंद्र हैं.



कौन हैं अमरेंद्र कुमार पांडेय
कुचायकोट विधानसभा सीट से अमरेंद्र कुमार पांडेय वर्तमान में जेडीयू के विधायक हैं. उनका जन्म 5 अक्टूबर 1974 को सिगहां टोले तुलसिया, गोपालगंज में हुआ था. इन्होंने इंटरमीडिएट- आईएससी तक की शिक्षा हासिल की है. इनकी पत्नी का नाम रंजू पांडेय है और इनके दो बेटे और दो बेटियां हैं. साल 2001 में अमरेंद्र ने राजनीति में प्रवेश किया था. अमरेंद्र कुमार 2005 से लगातार बिहार विधानसभा के सदस्य चुने जा रहे हैं.

2015 विधानसभा चुनाव में कितनों मतों से मारी बाजी

कुचायकोट विधानसभा सीट पर साल 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में अमरेंद्र कुमार को 72224 वोट हासिल हुए थे. वहीं दूसरे नंबर पर काली प्रसाद को 68662 वोट मिले थे. वहीं तीसरे नंबर पर सबसे ज्यादा नोटा को 7512 वोट हासिल हुए. 2015 के चुनाव में यहां 298698 मतदाता थे. वहीं 166892 लोगों ने मतदान किया. 2015 के विधानसभा चुनावों में यहां 55.88% मतदान हुआ था. इस दौरान जेडीयू को 43.28 फीसदी वोट मिले थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज