होम /न्यूज /बिहार /गांव की गलियों से निकल टीम इंडिया पहुंचे मुकेश, वनडे सीरीज के लिए गोपालगंज ने कहा- ऑल द बेस्ट

गांव की गलियों से निकल टीम इंडिया पहुंचे मुकेश, वनडे सीरीज के लिए गोपालगंज ने कहा- ऑल द बेस्ट

क्रिकेटर मुकेश कुमार को गोपालगंज के डीएम ने दी बधाई (News18)

क्रिकेटर मुकेश कुमार को गोपालगंज के डीएम ने दी बधाई (News18)

Bihar Cricketer Mukesh Kumar: मुकेश कुमार के इंडिया क्रिकेट टीम (India Team) में चयन होने की खबर मिलते ही परिवार और गां ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

मुकेश की मां और चाचा ने कहा कि ये पूरे बिहार के लिए गर्व की बात है. बेटा अब देश के लिए खेलेगा
गोपालगंज डीएम ने शुभकामना देते हुए कहा कि मुकेश ने गोपालगंज को गौरवान्वित किया है
इंडिया-ए टीम में बेहतर प्रदर्शन की वजह से बीसीसीआई की नजर में आये थे मुकेश कुमार

गोपालगंज: गोपालगंज (GopalGanj) के काकड़कुंड गांव से निकलकर मुकेश कुमार (Cricketer Mukesh Kumar) ने क्रिकेट की दुनिया के बाद अब टीम (India Team) में दस्तक दे दी है. टीम इंडिया पहुंचने वाले मुकेश अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना चुके हैं. मुकेश के इंडिया टीम में चयन होने की खबर मिलते ही परिवार और गांव के ग्रामीणों में खुशी की लहर दौड़ गयी. मुकेश की मां मालती देवी ने बेटे की सफलता पर फक्र करते हुए कहा कि ”मेरा बेटा देश के लिए खेलगा” और देश के लिए समर्पित रहेगा.

गोपालगंज के डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी ने सोमवार को क्रिकेटर मुकेश कुमार को बधाई देते हुए कहा कि मुकेश ने गोपालगंज ही नहीं, बल्कि पूरे बिहार को गौरवान्वित किया है. डीएम ने क्रिकेटर मुकेश कुमार से बात की और उन्हें आगामी छह अक्टूबर से साउथ अफ्रिका के साथ होने वाले मैच के लिए अग्रिम बधाई दी. डीएम ने कहा कि गोपालगंज में प्रतिभाओं की कमी नहीं है. सांस्कृतिक क्षेत्र हो या, बॉलीवुड या फिर प्रशासनिक स्तर हो, इन सभी सर्वश्रेष्ठ पदों पर हैं.

बिहार की दो सीटों मोकामा और गोपालगंज के लिए 3 नवंबर को होंगे विधानसभा उपचुनाव
बचपन में क्रिकेट खेलने के लिए डांटते थे चाचा : मुकेश कुमार बचपन से ही क्रिकेट खेलने के शौकीन थे. काकड़कुंड गांव की गलियों में क्रिकेट खेला करते थे. क्रिकेट में अधिक समय देने और पढ़ाई में कम समय देने पर उनके चाचा कृष्णकांत सिंह डांटते थे. पुरानी बातें याद कर कृष्णकांत सिंह बताते हैं कि मुकेश कुमार मना करने के बाद भी चोरी-छिपे क्रिकेट खेलने के लिए निकल जाता था. परिवार की माली हालत ठीक नहीं थी, इसलिए पढ़-लिखकर नौकरी करने के लिए हमेशा दबाव बनाया गया, लेकिन आज उसकी मेहनत और लगन ने ये साबित कर दिया कि चाह जहां पर है, राह भी वहीं है. इंडिया टीम में शामिल होने के बाद मुकेश के चाचा की आंखें खुशी से भर आईं.

प्रतिभा की तलाश में निकला था मुकेश कुमार

गोपालगंज क्रिकेट टीम के कप्तान रहे अमित कुमार सिंह ने बताया कि 2006 में प्रतिभा खोज की तलाश क्रिकेट हुई. जिसमें सात मैच में 37 विकेट और एक हैट्रिक विकेट लिए. प्रारंभिक कोच के तौर पर रहे अमित कुमार ने बताया कि बाद में मुकेश कुमार का चयन रणजी ट्रॉफी बंगाल टीम में हो गया. इसके बाद इंडिया-ए टीम में पिछले माह चयन हुआ. इंडिया-ए टीम में बेहतर प्रदर्शन की वजह से बीसीसीआइ की नजर मुकेश कुमार पर थी, इसके बाद रविवार को बीसीसीआइ ने इसकी घोषणा कर दी.

जिला प्रशासन ने स्वागत के लिए किया आमंत्रित 

जिला प्रशासन ने क्रिकेटर मुकेश कुमार को स्वागत के लिए गोपालगंज में आमंत्रित किया है. काकड़कुंड गांव के रहनेवाले मुकेश कुमार से डीएम ने बात करते हुए उन्हे घर आने के लिए आमंत्रित किया. वहीं जिला प्रशासन ने मुकेश कुमार के परिवार को सम्मानित करने का निर्णय लिया है. नवरात्रि के मौके पर जिलेवासियों के लिए यह गर्व की बात है.

Tags: Apna bihar, Bihar News, Cricket news, Gopalganj news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें