VIDEO: रिश्वत लेते कैमरे में कैद हुआ बिहार पुलिस का 'घूसखोर' ASI

वायरल वीडियो में जिस आरोपी एएसआई पर पैसा मांगने का आरोप है उस एएसआई का नाम राज भरत प्रसाद है. यह एएसआई भोरे थाना में तैनात है.

Mukesh Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 13, 2018, 11:41 AM IST
Mukesh Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 13, 2018, 11:41 AM IST
बिहार पुलिस के एक एएसआई का घूस लेते वीडियो बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है. मामला गोपालगंज का है, जहां के भोरे थाना में तैनात एएसआई कैमरे के सामने एक महिला से घूस की रकम ले रहा है. इस वायरल वीडियो में एएसआई के द्वारा पीसीसी बनवाने के नाम पर कुछ खर्चा मांगने और खर्चा के नाम पर 500 रुपए लेकर पॉकेट में रखते हुए साफ-साफ देखा जा सकता है.

वायरल वीडियो में जिस आरोपी एएसआई पर पैसा मांगने का आरोप है उस एएसआई का नाम राज भरत प्रसाद है. यह एएसआई भोरे थाना में तैनात है. दरअसल खाड़ी देशों में रोजगार के लिए जाने वालों के लिए अब पीसीसी यानी पुलिस क्लियरेंस सर्टिफिकेट अनिवार्य कर दिया गया है. इस पुलिस क्लियरेंस सर्टिफिकेट के बाद ही कोई बेरोजगार या कामगार खाड़ी देश में काम करने जा सकेगा.

इसी पीसीसी के लिए सोमवार को एक आवेदक थाना पंहुचा. यहां एएसआई राज भरत प्रसाद पहले से कार्यालय में मौजूद थे. यहां आवेदक ने अपना आवेदन एएसआई को दिया. आवेदन मिलने के बाद एएसआई ने खर्चा-पानी के लिए पैसे की मांग की, लेकिन जब आवेदक ने पूछा कि उसके लिए पैसे लगेंगे तब एएसआई ने कहा कि बिना पैसे के कोई काम नहीं होता है.

वीडियो फुटेज में घूसखोर एएसआई आवेदक को बाह जाने के लिए कहता है, लेकिन जब आवेदक टेबल पर 500 रुपए का एक नोट को रख देता है, तो एएसआई ने तुरंत घूस के पैसे पॉकेट में रखकर आवेदक को घर जाने का इशारा करते हुए दिखता है. मामले में जब एसपी रविरंजन कुमार से बात की गई तो उन्होंने कहा कि उन्हें भी एक वीडियो भेजा गया है, जिसमें एएसआई के द्वारा पैसा लेते हुए दिखाया गया है.

इस वीडियो के मिलते ही हथुआ अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी इम्तियाज अहमद को जांच कर तुरंत निलंबित करने का आदेश दे दिया गया है. एसपी ने कहा कि ऐसे मामले में किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर