होम /न्यूज /बिहार /By Elections 2022: जानें कौन हैं कुसुम देवी, जिन्हें बीजेपी ने गोपालगंज से दिया टिकट

By Elections 2022: जानें कौन हैं कुसुम देवी, जिन्हें बीजेपी ने गोपालगंज से दिया टिकट

जनसंपर्क करतीं भाजपा प्रत्याशी कुसुम देवी

जनसंपर्क करतीं भाजपा प्रत्याशी कुसुम देवी

Bihar By Elections 2022: अबतक किसी भी प्रत्याशी ने नामांकन नहीं किया है. चुनाव आयोग ने 14 अक्टूबर तक प्रत्याशियों को ना ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

उप चुनाव के लिए भाजपा ने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी है.
कल कुसुम देवी करेंगी नामांकन, भाजपा के कई दिग्गज नामांकन में होंगे शामिल

गोपालगंज. बिहार के मोकामा और गोपालगंज में उप चुनाव के लिए भाजपा ने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी है. बीजेपी ने मोकामा से जहां सोनम देवी को अपना उम्मीदवार घोषित किया है, वहीं गोपालगंज में सदर विधानसभा सीट के लिए कुसुम देवी को उम्मीदवार बनाया है. बता दें,  कुसुम देवी बिहार सरकार के पूर्व सहकारिता मंत्री और लगातार चार बार विधायक रहे दिवंगत सुभाष सिंह की पत्नी हैं. कुसुम देवी कल यानी कि सोमवार को अपना नामांकन पर्चा दाखिल करेंगी.

भाजपा प्रत्याशी और दिवंगत सदर विधायक सुभाष सिंह की पत्नी कुसुम देवी दसवीं पास हैं. 58 साल की कुसुम देवी गृहिणी हैं. पहली बार चुनाव मैदान में उतरीं कुसुम देवी ने बताया कि उनके पति सुबह से चार-चार बार विधायक रह कर क्षेत्र में जनता की समस्याओं को सुना करते थे. जब सुभाष सिंह घर पर नहीं रहते थे तो कुसुम देवी लोगों की फरियाद सुना करती थी और उनके समस्याओं को मंत्री रहे सुभाष सिंह की मदद से निदान करातीं थीं. कुसुम देवी बताती हैं कि उनका घर सदर प्रखंड के ख़्वाज़ेपुर दियारा इलाके में आता है. बाढ़ की हर साल तक झेलनी पड़ती है. ऐसे में कई बार यहां के लोग खाने-पीने के समान के लिए भी परेशान रहते हैं. बाढ़ पीड़ितों की मदद में कुसुम देवी हमेशा आगे आती रही हैं.

सहानुभूति वोट से जीतने की उम्मीद में भाजपा

लगातार चार बार से जिला मुख्यालय में विधायक रहे सुभाष सिंह के निधन के बाद भाजपा सहानुभूति वोट भी बटोरने के लिए चुनाव प्रचार में हर स्तर पर कदम उठा रही है. भाजपा प्रत्याशी कुसुम देवी जहां भी चुनावी जनसंपर्क करने पहुंच रही है वहां दिवंगत विधायक की तस्वीर भी पहुंच रही है. चुनाव प्रचार की वाहन हो या फिर बैनर, पोस्टर, पंपलेट दिवंगत विधायक की तस्वीर को दिखाकर सहानुभूति वोट बटोरने में भाजपा लगी हुई है. नामांकन में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल, विधानपरिषद के नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी, पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, तारकिशोर प्रसाद समेत कई पूर्व मंत्री शामिल होंगे. नामांकन के बाद गोपालगंज में कमला राय कॉलेज में जनसभा होगी. उपचुनाव से पहले भाजपा की पहली चुनावी जनसभा होगी.

राजद से ये हो सकते हैं उम्मीदवार 

वहीं राजद की ओर से गोपालगंज के बड़े व्यवसायी मोहन प्रसाद गुप्ता को उम्मीदवार बनाये जाने की चर्चा चल रही है. मोहन प्रसाद गुप्ता वैश्य समाज से आते हैं. इन दोनों पार्टियों के बीच पूर्व सांसद साधु यादव भी बसपा से चुनाव लड़ने के लिए मैदान में उतर सकते हैं. गोपालगंज जिला राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद का गृह जिला है. वहीं सदर विधानसभा सीट पर भाजपा का पिछले 17 साल से कब्जा रहा है. लिहाजा भाजपा किसी भी हाल पर ये सीट खोना नहीं चाहती है. तो राजद राजद सुप्रीमो और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के गृह जिले पर कब्जा जमाना चाहती है.

वहीं नामांकन की बात करें तो अबतक किसी भी प्रत्याशी ने नामांकन नहीं किया है. चुनाव आयोग ने 14 अक्टूबर तक प्रत्याशियों को नामांकन कराने के लिए मौका दिया है. तीन नवंबर को मतदान और छह नवंबर को मतगणना होना है.

Tags: Assembly by election, Bihar BJP, Gopalganj news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें