लाइव टीवी

गोपालगंज: जमीन विवाद में खूनी संघर्ष, धारदार हथियार से हमले में एक की हालत नाजुक

News18 Bihar
Updated: November 30, 2019, 1:30 PM IST
गोपालगंज: जमीन विवाद में खूनी संघर्ष, धारदार हथियार से हमले में एक की हालत नाजुक
गोपालगंज में जमीन विवाद में खूनी संघर्ष में एक व्यक्ति जख्मी

विधानमंडल के मानसून सत्र के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्वीकार किया था कि इस वर्ष हत्या के मामलों में दो प्रतिशत की वृद्धि हुई है.

  • Share this:
गोपालगंज. शासन के तमाम दावों के बीच भी जमीन विवाद (Land Dispute) को लेकर खूनी संघर्ष रुकने का नाम नहीं ले रहा है. ताजा मामला गोपालगंज (Gopalganj) का है जहां दो पक्षों के बीच जमीन विवाद को लेकर खूनी संघर्ष हुआ और कई लोग जख्मी हो गए. मामला थावे थाना (Thhave Police Station) क्षेत्र के पिठौरी हाता गांव का है. बताया जा रहा है कि यहां 40 वर्षीय व्यक्ति के ऊपर धारदार हथियार से जानलेवा हमला कर दिया गया.

बताया जा रहा है कि इस हमले में पीड़ित के शरीर पर कई जगह गहरे जख्म के निशान बन गए हैं. जख्मी हालत में उन्हें आनन फानन में सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया है. जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है. घटना के बाद इलाके में तनाव है. जबकि आरोपी घटनास्थल से फरार हो गए.

जमीन विवाद बनी वजह
जानकारी के अनुसार पीड़ित व्यक्ति का नाम परमात्मा चौधरी है. वह थावे के पिठौरी गांव का रहने वाला है. बताया जा रहा है कि परमात्मा चौधरी का अपने गांव की थोड़ी सी जमीन को लेकर पुराना विवाद चल रहा है. ऐसी आशंका जताई जा रही है कि इसी पुराने विवाद को लेकर उनके ऊपर धारदार हथियार से ताबड़तोड़ हमला कर दिया गया.

राजद ने दी प्रदर्शन की धमकी
पूर्व विधायक व राजद जिलाध्यक्ष रेयाजुल हक राजू ने बताया कि परमात्मा चौधरी के पर उसके पटिदार के लोगों ने ही हमला किया गया है. जब वे घर वापस लौट रहे थे इसी दौरान पूर्व से घात लगाए पटिदारों ने हमला कर दिया. राजू ने एसपी से इस मामले मं त्वरित कारवाई करते हुए अरोपियो की गिरफ़्तारी की मांग की है. उन्होंने कहा की अगर अरोपियों की गिरफ़्तारी नहीं होगी तो राजद विरोध प्रदर्शन करेगा.

...तब सीएम ने भी माना था
Loading...

बता दें कि विधानमंडल के मानसून सत्र के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुलकर स्वीकार किया था कि इस वर्ष हत्या के मामलों में दो प्रतिशत की वृद्धि हुई है. गृह विभाग के बजट पर हुई चर्चा के बाद सरकार की तरफ से जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि हत्या में बढ़ोतरी का मुख्य कारण भूमि या संपत्ति विवाद है. 60 फीसदी से ज्यादा हत्याएं भूमि विवाद के कारण ही होती हैं.

रिपोर्ट- मुकेश कुमार

ये भी पढ़ें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोपालगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 30, 2019, 1:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...