• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • शूटआउट @ Noon: बाहुबली JDU विधायक के करीबी को गोलियों से भूना, मौके पर हुई मौत

शूटआउट @ Noon: बाहुबली JDU विधायक के करीबी को गोलियों से भूना, मौके पर हुई मौत

गोपालगंज में ट्रिपल मर्डर के बाद मंगलवार को ठेकेदार की हत्या

गोपालगंज में ट्रिपल मर्डर के बाद मंगलवार को ठेकेदार की हत्या

एक दिन पहले हुई ट्रिपल मर्डर (Triple murder) की घटना के महज कुछ घंटे के बाद ही जेडीयू विधायक के करीबी की हत्या से गोपालगंज (Gopalganj ) में दहशत का माहौल है.

  • Share this:
गोपालगंज. ट्रिपल मर्डर का मामला अभी सुलझा भी नहीं था कि मंगलवार को दिनदहाड़े एक और ठेकेदार की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई. हत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चला सका है, लेकिन बताया जाता है कि मृतक जदयू विधायक पप्पू पाण्डेय (JDU MLA Pappu Pandey) के भाई सतीश पाण्डेय का काफी करीबी था. घटना हथुआ के रेपुरा गांव की है. 45 वर्षीय मृतक का नाम मुन्ना तिवारी है. वह रेपुरा निवासी विश्वनाथ तिवारी का पुत्र था. मुन्ना तिवारी के बारे में बताया जा रहा है कि वह ठेकेदारी करता था और इसके साथ ही वह कुचायकोट के जदयू विधायक अमरेन्द्र कुमार पाण्डेय उर्फ़ पप्पू पाण्डेय का भी करीबी था. कहा जाता है कि वह विधायक के साथ ही रहता था.

मिली जानकारी के अनुसार हाल में ही उसने एक 40 लाख रुपये में तालाब के निर्माण का एक ठेका भी लिया था. स्थानीय लोगों के मुताबिक मुन्ना तिवारी मंगलवार की दोपहर अपने घर के बाहर बैठे थे. तभी दो बाइक पर सवार चार आपराधी आये और उनके ऊपर फायरिंग करने लगे. फायरिंग के बाद मुन्ना तिवारी भागने लगे. लेकिन अपराधियो ने उनका पीछा कर ताबड़तोड़ कई राउंड फायरिंग की. गोली उनके शरीर के कई हिस्सों में लगी जिसकी वजह से उनकी मौके पर मौत हो गयी.

गोलीबारी में घायल समझ स्थानीय लोगों और हथुआ पुलिस की मदद से उसे गोपालगंज सदर अस्पताल में पहुंचाया  गया, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी. मृतक की बहन किरण देवी ने बताया कि वे बहुत ही शांत स्वभाव के थे. वे घर के पास बैठे से तभी दो अपराधियों ने गोली से भूनकर उनकी हत्या कर दी.

हथुआ थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया कि उन्हें भी गोली मारने की सूचना दी गयी थी. वे मौके पर पहुंचकर मुन्ना तिवारी को सदर अस्पताल में लेकर आये हैं, लेकिन उनकी मौत हो गयी है.  ने मृतक मुन्ना तिवारी का जदयू विधायक से किसी तरह के समबन्ध से इंकार किया है. उन्होंने कहा कि मुन्ना तिवारी रेपुरा गांव के रहने वाले थे.

बता दें कि रविवार को सरेआम राजद नेता जेपी यादव के मां-बाप और भाई की हत्या कर दी गयी थी. इस मामले में जदयू विधायक पप्पू पाण्डेय, उनके भाई सतीश पाण्डेय और भतीजा मुकेश पाण्डेय सहित बटेश्वर पाण्डेय को नामजद किया था. जिसमें सतीश और मुकेश की गिरफ़्तारी कर ली गयी थी. लेकिन विधायक अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर है.

एक दिन पहले हुई ट्रिपल मर्डर की घटना के महज कुछ घंटे के बाद ही विधायक के करीबी की हत्या से गोपालगंज में दहशत का माहौल है. आगामी विधानसभा चुनाव से पहले गोपालगंज में दिनदहाड़े शूटआउट के मामले पुलिस की अपराधियों पर पकड़ ढीली पड़ने की कहानी बयां करती है. जबकि इस मामले में एसपी मनोज कुमार तिवारी लगातार मीडिया को कुछ भी बताने से परहेज कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें


Bihar Board Matric Result 2020: पांचवीं पास मां का बेटा हिमांशु बना बिहार टॉपर, पिता के साथ सब्जी भी बेची




Bihar Board Matric Result 2020: 500 में 480 नंबर लाकर किसान का बेटा बना सेकेंड टॉपर, पिता बोले- संघर्ष से मिला रिजल्ट

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज