होम /न्यूज /बिहार /

गोपालगंज-बेतिया SH के दोनों किनारे धंसे, कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा; CM नीतीश कुमार ने किया था उद्घाटन

गोपालगंज-बेतिया SH के दोनों किनारे धंसे, कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा; CM नीतीश कुमार ने किया था उद्घाटन

स्थानीय लोगों ने जगह-जगह पत्थर सड़क पर रख दिए हैं, ताकि वाहन चालक इंडिकेट कर सावधान हो जाए.

स्थानीय लोगों ने जगह-जगह पत्थर सड़क पर रख दिए हैं, ताकि वाहन चालक इंडिकेट कर सावधान हो जाए.

Bihar News: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पूर्व पथ निर्माण मंत्री सह उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने वर्ष-2017 में गोपालगंज-बेतिया स्टेट हाइवे का उदघाटन किया था. महज पांच वर्ष बाद ही राजवाही गांव के पास कई स्थानों पर बाए और दाहिने भाग में मिट्टी धस कर बड़ा-बड़ा गड्ढा का रूप ले लिया है. यह गड्डे बड़ा हादसा का रोज निमंत्रण दे रहा है. फिर भी पथ निर्माण विभाग का नींद नहीं खुल रहा है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

यह सड़क ईस्ट एंड वेस्ट कॉरिडोर एनएच-27 को जोड़ता है.
मिट्टी धंसने के कारण सड़क पर दुर्घटना होने की आशंका बनी रहती है.
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव ने 2017 में उद्घाटन किया था.

रिपोर्ट- गोविंद कुमार 
गोपालगंज. यदि आप गोपालगंज-बेतिया स्टेट हाइवे पर सफर करते हैं तो थोड़ा सावधान रहिएगा. आपकी थोड़ी सी चूक से बड़ा हादसा हो सकता है, क्योंकि सड़क के दोनों किनारे की जमीन गंडक नदी और बारिश की वजह से धस चुकी है. यह सड़क ईस्ट एंड वेस्ट कॉरिडोर एनएच-27 को जोड़ता है. सदर प्रखंड के राजवाही गांव के पास सड़क के दोनों तरफ का हिस्सा बाढ़ के पानी में विलीन हो चुका है, जिससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है.

इस बारे में स्थानीय ग्रामीण बृज लाल यादव और उमा देवी का कहना है कि बारिश के कारण मिट्टी धस कर सड़क पर दुर्घटना होने की आशंका बनी रहती है. कंस्ट्रक्शन कंपनी वालों से कई बार संपर्क किया गया. कनीय अभियंता बोले कि ठेकेदार भर देगा, लेकिल ठेकेदार आया और एक ट्रॉली मिट्टी गिरा कर चल गया. सड़क की स्थिति जस का तस बना हुआ है, हादसा कभी भी हो सकता है. स्थानीय लोगों ने हादसा को रोकने के लिए जगह-जगह पत्थर सड़क पर रख दिए हैं, ताकि वाहन चालक इंडिकेट कर सावधान हो जाए.

मुख्यमंत्री ने 2017 में किया था उद्घाटन

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पूर्व पथ निर्माण मंत्री सह उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने वर्ष-2017 में इसका उदघाटन किया था. महज पांच वर्ष बाद ही राजवाही गांव के पास कई स्थानों पर बाए और दाहिने भाग में मिट्टी धस कर बड़ा-बड़ा गड्ढा का रूप ले लिया है. यह गड्डे बड़ा हादसा का रोज निमंत्रण दे रहा है. फिर भी पथ निर्माण विभाग का नींद नहीं खुल रहा है.

क्या कहते हैं डीएम

डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी ने कहा कि सड़क के किनारे धसे जमीन है, जिसे अभियंता को निर्देश दिया गया है कि जल्द को-ऑर्डिनेट कर मरम्मती करवा दें. इससे किसी को परेशानी नहीं होने दिया जायेगा.

Tags: Apna bihar, Bihar News, CM Nitish Kumar

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर