गोपालगंज में 509 करोड़ के मेगा ब्रिज का उदघाटन आज, छपरा-सीवान समेत कई जिलों की घट जाएगी दूरी
Gopalganj News in Hindi

गोपालगंज में 509 करोड़ के मेगा ब्रिज का उदघाटन आज, छपरा-सीवान समेत कई जिलों की घट जाएगी दूरी
बिहार के गोपालगंज में बना बंगरा घाट पुल

Bangra Ghat Bridge: गोपालगंज में इस महासेतु के चालू होने के बाद गोपालगंज, सीवान और सारण से मुजफ्फरपुर की दूरी 55 किमी, दरभंगा की दूरी 65 किमी कम हो जाएगी.

  • Share this:
गोपालगंज. बिहार के सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) आज गोपालगंज के लोगों को तोहफे में एक और महासेतु (Gopalganj Mega Bridge) देने वाले हैं. करीब साढ़े 11 बजे सीएम बंगरा घाट पुल जनता को करेंगे समर्पित. 509 करोड़ से बनकर तैयार हुआ महासेतु गोपालगंज की सीमा को मुजफ्फरपुर के साहेबगंज से जोड़ने वाला जिले में गंडक पर बना चौथा महासेतु है. बैकुंठपुर में बना बंगरा घाट महासेतु स्वतंत्रता दिवस से 03 दिन पहले लोगों के लिए खोल दिया जाएगा.

पुल को बनाने में लगा 6 साल का समय

सारण को चंपारण और तिरहुत से जोड़ने वाला 1506 मीटर लंबा यह महासेतु बन कर तैयार है. इस पुल के नर्माण पर 509 करोड़ की राशि खर्च हुई है. 15 मीटर चौड़ाई वाले इस पुल को बनाने में 6 साल 4 महीने लगे हैं. पुल के चालू होने से 6 जिलों की करीब 8 लाख की आबादी के आवागमन में सहूलियत होगी



दो माह के अंदर गोपालगंज को दूसरा तोहफा
55 दिन पहले यानी 16 जून को इसी प्रखंड में 4 किमी की दूरी पर बना सत्तरघाट पुल काे सीएम ने जनता को समर्पित किया था. 1440 मीटर लंबे सत्तरघाट पुल के निर्माण पर 263 करोड़ का खर्च हुआ था.

सारण और मुजफ्फरपुर की 40 किमी दूरी कम होगी

इस महासेतु के चालू होने के बाद गोपालगंज, सीवान और सारण से मुजफ्फरपुर की दूरी 55 किमी, दरभंगा की दूरी 65 किमी, जनकपुर की दूरी 70 किमी कम हो जाएगी. पुल के चालू हो जाने से सारण, चंपारण और मुजफ्फरपुर के लोगों को सीधा फायदा होगा. इससे जिला का एसएच 90 और पूर्वी चंपारण का एसएच 27 आपस में जुड़ रहे हैं.

ये होंगे फायदे

1-दियारे का विकास 2- नेपाल से बढ़ेगा व्यापार 3- अयोध्या व जनकपुर तीर्थ फोरलेन से जुड़ेगे 4- सारनाथ से भवान महावीर का जन्मस्थल वैशाली सीधा जुड़ जाएगा 5- अंतरराष्ट्रीय महत्व का साबित होगा पुल 6- बाढ़ का खतरा होगा कम

बंगराघाट पुल एक नजर में

लंबाई-1506 मीटर, चौड़ाई-15 मीटर, एप्रोच रोड-19 किमी, लागत खर्च -509 करोड़, काम शुरू हुआ- 11 अप्रैल 2014 , लोकार्पण- 12 अगस्त 2020 को
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज