Home /News /bihar /

container broke railing of dumaria bridge and fell in gandak river driver and cleaner are missing nodmk8

पुल की रेलिंग तोड़ कर उफनती गंडक नदी में गिरा बेकाबू कंटेनर, चालक और खलासी लापता

तेज बारिश के चलते चालक कंटेनर पर नियंत्रण नहीं रख सका और वो डुमरिया पुल की रेलिंग तोड़ते हुए गंडक नदी में जा गिरा

तेज बारिश के चलते चालक कंटेनर पर नियंत्रण नहीं रख सका और वो डुमरिया पुल की रेलिंग तोड़ते हुए गंडक नदी में जा गिरा

Bihar News: गोपालगंज की तरफ से पूर्वी चंपारण जा रहा कंटेनर अनियंत्रित हो गया और वो डुमरिया पुल की रेलिंग तोड़ते हुए उफनती गंडक नदी में जा गिरा. नदी का जलस्तर अधिक होने के कारण कंटेनर के बारे में कुछ भी पता नहीं चल सका है. इस हादसे के बाद कंटेनर का ड्राइवर और क्लीनर का सुराग नहीं मिला है

अधिक पढ़ें ...

गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज (Gopalganj) जिले में डुमरिया पुल पर एक कंटेनर अनियंत्रित होकर रेलिंग को तोड़ते हुए उफनती गंडक नदी (Gandak River) में जा गिरा. तेज बारिश होने के चलते यह हादसा हुआ. बताया जा रहा है कि कंटेनर पर चालक और खलासी सवार थे, इस हादसे में यह दोनों लापता हैं. सदर एसडीपीओ संजीव कुमार ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि कंटेनर गोपालगंज की तरफ से पूर्वी चंपारण जा रहा था. गंडक नदी का जलस्तर अधिक होने के कारण कंटेनर के बारे में कुछ भी पता नहीं चल सका है. जिला प्रशासन ने रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए एनडीआरएफ (NDRF) की टीम बुलाई है.

एनएचएआई (NHAI) ने दुर्घटना के बाद डुमरिया पुल पर बैरिकेडिंग कर दी है. कंटेनर में सवार चालक और खलासी के बारे में अब तक कोई सुराग नहीं मिला है.

डुमरिया सेतु का 1970 के दशक में करोड़ों रुपये की लागत से निर्माण करवाया गया था. तब इससे न सिर्फ सारण और चंपारण की दूरी घटी, बल्कि दिल्ली से गुवाहाटी तक सीधे रोडवेज से जुड़ गया था. मगर रख-रखाव और मरम्मत के अभाव में लूट-खसोट जारी रहा और बीते डेढ़ दशक से यह पुल जर्जर हो चुका है.

समानांतर नये पुल का नहीं हुआ निर्माण

डुमरिया पुल के समानांतर नये पुल का निर्माण वर्ष 2007 में शुरू हुआ था. मगर इसके चार साल बाद यानी 2011 में निर्माणाधीन सेतु का स्लैब सहित पाया धंस गया था जिसके बाद निर्माण कंपनी काम छोड़ कर फरार हो गयी थी. इसके बाद एनएचएआई की ओर से कंस्ट्रक्शन कंपनी को टर्मिनेट कर दिया गया था. वर्ष 2011 के बाद पुल निर्माण के लिए चार बार टेंडर निकाला गया, लेकिन शर्तों को पूरा नहीं किये जाने पर एनएचएआई द्वारा टेंडर नहीं दिया गया तब से डुमरिया पुल जर्जर हालत में है.

Tags: Bihar News in hindi, Bridge Construction, Gandak river, Heavy rain

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर