बिहार: रेप के बाद 8 साल के मासूम की हुई थी हत्या, कोर्ट ने महज 6 महीने में आरोपी को सुनाई फांसी की सजा

बिहार के गोपालगंज में रेप और हत्या के आरोपी को फांसी की सजा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बिहार के गोपालगंज में रेप और हत्या के आरोपी को फांसी की सजा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Gopalganj News: बिहार के गोपालगंज जिले में रेप की ये घटना अगस्त 2020 में हुई थी. रेप और हत्या की इस घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी पत्नी समेत फरार हो गया था.

  • Share this:
गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज में 8 साल की मासूम से रेप कर उसकी हत्या (Rape And Murder) करने के मामले में दोषी को कोर्ट ने फांसी (Hang Till Death) की सजा सुनाई है. मामला जिले के सिधवलिया थाना क्षेत्र के बखरौर से जुड़ा है जहां 25 अगस्त 2020 को 8 वर्षीय मासूम नाबालिग छात्रा का शव पड़ोस के घर में मिला था. बच्ची का शव मिलने से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई थी. मासूम मृतका के शव को आरोपी के कमरे में बोरी से बरामद किया गया था.

इस घटना को अंजाम देने के बाद हत्यारे पति-पत्नी मासूम की हत्या कर मौके से फरार हो गए थे. गोपालगंज में हुई इस घटना के महज 6 महीने बाद ही कोर्ट ने आरोपी को फांसी की सजा सुनाई है. गोपालगंज अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश 06 सह पॉक्सो स्पेशल जज बालेंद्र शुक्ला के न्यायालय ने पॉक्सो एक्ट के इस मामले में एक आरोपी को दोनो पक्ष के दलील सुनने के बाद दोषी करार करते हुए फांसी की सजा सुनाई है.

25 अगस्त 2020 को सिधवलिया थाने के बखरौर गांव में नौ वर्षीय बच्ची की उसी गांव के जय किशोर शाह ने रेप करने के बाद निर्मम हत्या कर दी थी और शव को घर में ही बोरे में रखकर फरार हो गया था. शक के आधार पर पुलिस ने घर का ताला तोड़कर बच्ची के शव को बरामद किया था. अभियोजन पक्ष से स्पेशल पीपी पॉक्सो दरोगा सिंह और बचाव पक्ष के अधिवक्ता अबू शमीम अंसारी की दलीलें सुनने के बाद कोर्ट ने आरोपी को दोषी पाकर फांसी की सजा सुनाई.

पीपी दरोगा सिंह और लोक अभियोजक देवबंश गिरी ने बताया कि मामले में स्पीडी ट्रायल चल रहा था. आरोप गठन के बाद एक माह के अंदर सारी प्रक्रियाओं को पूरा करते हुए आरोपी जय किशोर साह को दोषी पाकर मृत्यु दण्ड की सजा दिलायी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज