Home /News /bihar /

Crime in Bihar: जंगलिया मोहल्ले में जंगली बने लोग, 3 मजदूरों को पीट-पीटकर कर दिया अधमरा

Crime in Bihar: जंगलिया मोहल्ले में जंगली बने लोग, 3 मजदूरों को पीट-पीटकर कर दिया अधमरा

सदर अस्पताल में भर्ती हीरालाल ने बताया कि उन्हें जमीन के विवाद के बारे में जानकारी नहीं थी.

सदर अस्पताल में भर्ती हीरालाल ने बताया कि उन्हें जमीन के विवाद के बारे में जानकारी नहीं थी.

Case Registered : इस पिटाई से घायल हुए विपिन, हीरा और शैलेश को स्थानीय लोगों ने सदर अस्पताल में भर्ती कराया. प्राथमिक उपचार के बाद सदर अस्पताल के चिकित्सक ने विपिन और हीरालाल की स्थिति नाजुक देखते हुए बेहतर इलाज के लिए गोरखपुर रेफर कर दिया. इस वारदात की जानकारी मिलने पर नगर थाना की पुलिस मौके पर पहुंची है. उसने घायलों और आसपास के लोगों के बयान दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है.

अधिक पढ़ें ...

गोपालगंज. मकान निर्माण काम में लगे 3 मजदूरों को कुछ लोगों ने पीट-पीटकर अधमरा कर दिया. इन तीनों मजदूरों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. दो मजदूरों की नाजुक हालत देखते हुए डॉक्टर ने उन्हें गोरखपुर रेफर कर दिया है. पिटे मजदूरों की पहचान विपिन कुमार, हीरालाल कुमार और शैलेश कुमार के रूप में हुई है.

यह वारदात नगर थाना क्षेत्र के जंगलिया मोहल्ले में रविवार को हुई है. दरअसल, यहां दो पक्षों के बीच जमीन का विवाद चल रहा था. इस बीच एक पक्ष ने उस विवादित जमीन पर मकान निर्माण का काम शुरू करा दिया. इस विवाद से अनजान रविवार को तीन मजदूर वहां काम कर रहे थे. तभी वहां दूसरे पक्ष के लोग पहुंच गए. वे सारे के सारे लाठी-डंडों से लैस थे. उन्होंने मजदूरों से काम बंद करने को कहा और उन्हें घेरकर बुरी तरह पीटने लगे. इस हमले में तीनों मजदूर बेतरह जख्मी हुए हैं. बताया जाता है कि जख्मी मजदूरों में विपिन कुमार थावे थाना क्षेत्र के चौराव गांव के रहने वाले बिजली मांझी के बेटे हैं, जबकि हीरालाल कुमार महेश राम के बेटे हैं और शैलेश कुमार सीवान जिले के रमेश मांझी के बेटे.

सदर अस्पताल में भर्ती हीरालाल के मुताबिक, उन्हें नहीं मालूम था कि इस जमीन पर कोई विवाद है. वह तो मजदूरी करने आया था कि उसे लोगों ने लाठी-डंडे से पीटा. पीड़ित मजदूरों में से एक की परिजन गीता देवी ने रोते-बिलखते हुए बताया कि उसके छोटे-छोटे बच्चे हैं, जिस बुरी तरह से उसके आदमी को पीटा गया है, उससे वह कई दिनों तक कमाने लायक नहीं रहेगा. हमलोग रोज कमाने-खाने वाले लोग हैं. अब हम कहां से क्या करें, कुछ समझ नहीं आ रहा.

बताया जाता है कि इस पिटाई से घायल हुए विपिन, हीरा और शैलेश को स्थानीय लोगों ने सदर अस्पताल में भर्ती कराया. प्राथमिक उपचार के बाद सदर अस्पताल के चिकित्सक ने विपिन और हीरालाल की स्थिति नाजुक देखते हुए बेहतर इलाज के लिए गोरखपुर रेफर कर दिया. इस वारदात की जानकारी मिलने पर नगर थाना की पुलिस मौके पर पहुंची है. उसने घायलों और आसपास के लोगों के बयान दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है.

Tags: Crime In Bihar, Crime News, Gopalganj Police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर