Home /News /bihar /

आजाद अंसारी ने 9 हजार पेशगी ली और गला घोंटकर दिलीप को मार डाला, कांग्रेस वर्कर मर्डर का खुलासा

आजाद अंसारी ने 9 हजार पेशगी ली और गला घोंटकर दिलीप को मार डाला, कांग्रेस वर्कर मर्डर का खुलासा

गोपालगंज के कांग्रेस कार्यकर्ता दिलीप श्रीवास्तव मर्डर का खुलासा.

गोपालगंज के कांग्रेस कार्यकर्ता दिलीप श्रीवास्तव मर्डर का खुलासा.

Gopalganj Congress Worker Murder Case: गिरफ्तार तीन अपराधियों में शामिल आजाद अंसारी ने बताया कि उन्हें हत्या के लिए महज नौ हजार रुपये ही मिला था. बंजारी से जैसे ही स्कार्पियो से लेकर चले तभी ही गमछे से गर्दन दबाकर हत्या कर दी गयी और शव को छपरा जिले में पटना जाने वाली सड़क के किनारे फेंक दिया था.

अधिक पढ़ें ...

गोपालगंज. कांग्रेस कार्यकर्ता दिलीप कुमार श्रीवास्तव की अपराधियों द्वारा अपहरण कर हत्या किए जाने के महज 48 घंटे में ही पुलिस ने मामले का उद्भेदन करने में सफल रही. पुलिस ने हत्या में शामिल तीन शातिर अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है. हत्या की वजह जमीन बिक्री के पैसे का बंटवारा बतायी गयी है. वहीं, हत्या में शामिल एक स्कॉर्पियो गाडी, मोबाइल और जिस गमछा से हत्या की गयी है, वह भी बरामद कर लिया गया है. बताया जा रहा है कि हत्या कराने को लेकर दो लाख रुपये में सुपारी तय की गई थी. सुपारी देने वाले की भी पहचान कर ली गयी है. पुलिस का दावा है कि जल्द ही अन्य बचे हुए अपराधियों की भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

एसपी आनंद कुमार के मुताबिक कांग्रेस कार्यकर्ता दिलीप कुमार श्रीवास्तव नगर थाना क्षेत्र के बंजारी मोहल्ले के रहनेवाले थे. जिन्हें 29 जनवरी को मोबाइल पर फोन कर शहर के बंजारी चौक पर बुलाया गया और वहीं से अपहरण कर लिया गया. इस मामले को लेकर नगर थाने में एफआईआर दर्ज की गयी. लेकिन दूसरे ही दिन 30 जनवरी को सारण जिले के दिघवारा थाना के बेला चक्का फैक्ट्री के समीप शव बरामद किया गया.

इस मामले को लेकर एसआइटी टीम गठित कर तीन अपराधी मनोज कुमार सिंह, लालबाबू साह और आजाद अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया. इसके साथ ही हत्या में उपयोग की गई स्कॉर्पियो गाडी, मोबाइल और जिस गमछा से हत्या की गयी थी वह भी बरामद किया गया. हत्या कराने को लेकर दो लाख रुपये में सुपारी तय की गई थी. सुपारी देने वाले की पहचान कर ली गयी है, जल्द ही अन्य दो लोगो को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

गिरफ्तार तीन अपराधियों में शामिल आजाद अंसारी ने बताया कि उन्हें हत्या के लिए महज नौ हजार रुपये ही मिला था. बंजारी से जैसे ही स्कार्पियो से लेकर चले तभी ही गमछे से गर्दन दबाकर हत्या कर दी गयी और शव को छपरा जिले में पटना जाने वाली सड़क के किनारे फेंक दिया था. मृतक की बहन कामिनी श्रीवास्तव ने कहा कि पुलिस अभी भी मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है. मृतक की बहन ने कहा कि किसने हत्या कराई प्रशासन उसे भी गिरफ्तार करे.

Tags: Big crime, Crime In Bihar, Crime News, Gopalganj news, Gopalganj Police, Murder

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर