लाइव टीवी
Elec-widget

डेंगू से दहशत में गोपालगंज: 9 लोगों की मौत, 300 मरीजों की हुई पहचान

Mukesh Kumar | News18 Bihar
Updated: November 17, 2019, 11:42 AM IST
डेंगू से दहशत में गोपालगंज: 9 लोगों की मौत, 300 मरीजों की हुई पहचान
गोपालगंज में लगातार बढ़ रही इस बीमारी का कारण गंदगी बताया जा रहा है. (सांकेतिक चित्र)

गोपालगंज (Goplagnaj) के वार्ड नम्बर-13 में डेंगू (Dengue) के करीब तीन दर्जन नए मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि डेंगू से बचाव के लिए पर्याप्त उपाय किए जा रहे हैं.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 17, 2019, 11:42 AM IST
  • Share this:
गोपालगंज.गोपालगंज (Gopalganj) में डेंगू (Dengue) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. यहां मीरगंज में अब तक 300 से ज्यादा डेंगू के मरीजों की पहचान हो चुकी है. डेंगू अब गोपालगंज के शहरी क्षेत्र में भी तेजी से पांव पसार रहा है. गैरसरकारी आंकड़ों के मुताबिक, जिले में डेंगू से करीब 9 लोगों की मौत (Death) हो चुकी है, जबकि अकेले गोपालगंज के वार्ड नम्बर 13 में डेंगू के करीब तीन दर्जन नए मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि डेंगू से बचाव के लिए पर्याप्त उपाय किए जा रहे हैं. इस बीमारी से लोगों के सेहत के साथ-साथ उनकी जेबें भी ढीली हो रही हैं. शहर के सरेया वार्ड नम्बर-13 में करीब 33 नए डेंगू के मरीज मिले हैं. इनमें से आधा दर्जन लोगों का प्लेटलेट्स खतरनाक लेबल पर आया गया है, जिन्हें गोरखपुर (Gorakhpur) के अलग-अलग निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया है.

वार्ड-13 के डेंगू पीड़ित दीनानाथ प्रसाद ने बताया कि उनका प्लेटलेट्स 49 हजार से पहुच गया था, लेकिन अब पहले से राहत है. दीनानाथ प्रसाद ने आरोप लगाया कि नगरपरिषद की ओर से अब तक कोई छिड़काव नहीं किया गया है. स्वास्थ्य विभाग के द्वारा भी उनकी कोई जांच नहीं की गयी. उनकी तरह इस मोहल्ले में करीब 25 से 30 लोग डेंगू से पीड़ित हैं, लेकिन किसी को भी स्वास्थ्य विभाग से कोई मेडिकल सहायता नहीं मिली है.

डेंगू बिगाड़ रहा सेहत और बजट

30 वर्षीय आशीष कुमार भी वार्ड-13 में रहते हैं. वह कई दिनों से बुखार से पीड़ित थे. जांच में पता चला कि उन्‍हें डेंगू हो गया है. आशीष के घर के तीन और सदस्य डेंगू से पीड़ित है. घर का बजट गड़बड़ हो गया है. स्वास्थ्य विभाग के द्वारा सदर अस्पताल में डेंगू वार्ड भी बनाया गया है, लेकिन वह कारगर नहीं है.

सीएस का दावा- रोकथाम के लिए हो रहे प्रयास

सीएस डॉ नंदकिशोर प्रसाद के मुताबिक, उचकागांव और मीरगंज प्रखंड के अलावा गोपालगंज शहरी क्षेत्र में डेंगू का प्रकोप बढ़ा है. उससे बचाव के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. उन्‍होंने बताया कि जो भी मरीज इलाज के लिए आ रहे हैं, उनकी जांच की जा रही है. कुछ मरीजों का एलिसा टेस्ट के लिए बाहर रेफर किया जा रहा है. सीएस ने कहा कि सभी प्रभावित इलाकों में पाउडर का छिड़काव किया जा रहा है. लोगों को सचेत रहने की सलाह दी जा रही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोपालगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 17, 2019, 9:05 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...