लाइव टीवी

गोपालगंज में 118 हड़ताली शिक्षक सस्पेंड, डीएम ने दिया एफआईआर दर्ज करने का आदेश
Gopalganj News in Hindi

Mukesh Kumar | News18 Bihar
Updated: February 29, 2020, 8:15 AM IST
गोपालगंज में 118 हड़ताली शिक्षक सस्पेंड, डीएम ने दिया एफआईआर दर्ज करने का आदेश
बिहार में सरकारी स्कूलों के शिक्षक विभिन्न मांगों को लेकर इन दिनों हड़ताल पर हैं (फाइल फोटो)

गोपालगंज (Gopalganj) के डीएम अरशद अजीज ने बताया कि ऐसे सभी शिक्षकों पर एफआईआर (FIR) दर्ज कर उनके खिलाफ कड़ी करवाई की जाएगी जो इंटर की कॉपी का मूल्यांकन कर रहे शिक्षकों को धमका रहे हैं.

  • Share this:
गोपालगंज. समान काम के लिए समान वेतन समेत विभिन्न मांगों को लेकर बिहार में शिक्षकों की हड़ताल (Bihar Teachers Strike) लगातार जारी है. हड़ताली शिक्षकों पर सरकार द्वारा लगातार कार्रवाई भी की जा रही है. इस कड़ी में गोपालगंज में जिला प्रशासन ने हड़ताल पर गए वैसे शिक्षकों (Bihar Teacher) के खिलाफ कड़ी कारवाई की है जो इंटर की कॉपी का मूल्यांकन कर रहे शिक्षकों को धमका रहे थे और उनके साथ काम नहीं करने का दबाव बना रहे थे. ऐसे 118 शिक्षकों को डीएम के आदेश पर निलंबित (Suspend) कर दिया गया है. इसके साथ ही डीडीसी ने उन्हें संविदा से मुक्त करने की अनुशंसा भी कर दी है.

साथी शिक्षकों से बदतमीजी कर रहे थे हड़ताली

डीएम अरशद अजीज ने बताया कि ऐसे सभी शिक्षकों पर एफआईआर दर्ज कर उनके खिलाफ कड़ी करवाई की जाएगी जो इंटर की कॉपी का मूल्यांकन कर रहे शिक्षकों को धमका रहे हैं. डीएम ने बताया कि गोपालगंज में भी चार केन्द्रों पर इंटर की परीक्षा का मूल्यांकन का कार्य चल रहा है. इस दौरान कई शिक्षक अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं लेकिन इसी दौरान सूचना मिली थी की जो शिक्षक कॉपी का मूल्यांकन कर रहे हैं उन्हें हड़ताली शिक्षक रोक रहे हैं और उनके साथ बदतमीजी कर रहे हैं. डीएम ने बताया कि हड़ताल पर गए शिक्षकों का आन्दोलन जायज नहीं है और इसके साथ ही वे काम करने वालों को रोक रहे हैं तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.



निलंबित होने वाले 118 शिक्षक जिला परिषद के



डीएम ने बताया कि इसी क्रम में जिला परिषद के 118 शिक्षकों को निलंबित कर दिया गया है और आगे उनकी संविदा समाप्त करने की अनुशंसा की जा रही है. डीएम ने कहा कि आगे भी जो शिक्षक ऐसा करेंगे उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. निलंबित किये सभी शिक्षकों का नियोजन जिला परिषद संभाग से हुआ था. जिसमे मांझागढ़ , फुलवरिया , भोरे, विजयीपुर , बरौली , कुचायकोट सहित कई प्रखंडो के नियोजित शिक्षक शामिल है.

ये भी पढ़ें- मेजबान बनीं दिखीं मुंगेर SP, कॉन्स्टेबल से लेकर अफसरों तक को खुद परोसा खाना

ये भी पढ़ें- भोजपुर में 63 हजार रुपए की रिश्वत लेता गिरफ्तार हुआ मुखिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोपालगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 29, 2020, 8:11 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading