होम /न्यूज /बिहार /गंडक नदी की तेज धार में बहा तर्पण के लिए आया इंजीनियर, मां को लोगों ने बचाया

गंडक नदी की तेज धार में बहा तर्पण के लिए आया इंजीनियर, मां को लोगों ने बचाया

बिहार के गोपालगंज में गंडक नदी की धार में बहा इंजीनियर (फाइल फोटो)

बिहार के गोपालगंज में गंडक नदी की धार में बहा इंजीनियर (फाइल फोटो)

मोतिहारी के जूनियर इंजीनियर गोपालगंज स्थित गंडक नदी के डुमरिया रिवर फ्रंट पर अपनी मां के साथ तर्पण के लिए आये थे. इस दौ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

जूनियर इंजीनियर की पहचान शुभम कुमार के रूप में की गई है
शुभम समस्तीपुर जिला के निवासी हैं
गंडक नदी में लापता जूनियर इंजीनियर की तलाश में NDRF की टीम लगाई गई है.

गोपालगंज. गोपालगंज में गंडक नदी में नहाने के दौरान मोतिहारी के जूनियर इंजीनियर की डूबने से मौत हो गई जबकि जूनियर इंजीनियर की मां को सकुशल बचा लिया गया. घटना महम्मदपुर थाना क्षेत्र के डुमरिया घाट स्थित रिवर फ्रंट की है. गंडक नदी में लापता जूनियर इंजीनियर की पहचान शुभम कुमार के रूप में की गई है, जो समस्तीपुर जिला के निवासी हैं. वो मोतिहारी के कोटवा प्रखंड में तकनीकी सहायक के पद पर कार्यरत थे.

गंडक नदी में लापता जूनियर इंजीनियर की तलाश में NDRF की टीम लगाई गई है. परिजनों के मुताबिक जूनियर इंजीनियर शुभम कुमार अपनी मां के साथ पितृपक्ष को लेकर तर्पण करने के लिए डुमरिया घाट स्थित नारायणी रिवर फ्रंट पर स्नान करने पहुंचे हुए थे. यहां स्नान करने के दौरान इंजीनियर की मां डूबने लगी. मां को गंडक नदी में डूबते देख बचाने के लिए शुभम कुमार ने नदी में छलांग लगा दी.

बताया जाता है  कि इंजीनियर के हाथ पर प्लास्टर लगा हुआ था, इसलिए वो तैर नहीं सके और नदी की धार में बह गए जबकि जूनियर की मां को स्थानीय लोगों की मदद से बचा लिया गया. घटना की जानकारी मिलने के बाद गोपालगंज के डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी ने एनडीआरएफ की टीम को रेस्क्यू ऑपरेशन में लगाया है. मोतिहारी के कोटवा से भी प्रशासनिक अधिकारी घटनास्थल पर कैंप किए हुए हैं.

Tags: Bihar News, Gandak river, Gopalganj news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें