गोपालगंज में राजद और भाकपा माले विधायक पर FIR दर्ज

एमएलए और कार्यकर्ता धरना देते हुए
एमएलए और कार्यकर्ता धरना देते हुए

बिहार के गोपालगंज में बरौली के राजद विधायक (RJD MLA) और सीवान के दरौली के माले विधायक (CPI ML MLA) को धरना देना महंगा पड़ गया. इनके खिलाफ हथुआ थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी है.

  • Share this:
गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज में बरौली के राजद विधायक (RJD MLA) और सीवान के दरौली के माले विधायक (CPI ML MLA) को धरना देना महंगा पड़ गया. दरअसल हुआ यह कि जब डीएम अरशद अजीज (Arshad Ajeej, DM)  ने हथुआ पुलिस को बिना सूचना दिए धरना पर बैठने और लॉक डाउन का उल्लंघन करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया.

इतने लोगों के खिलाफ पुलिस ने की ये कार्रवाई

डीएम के आदेश पर बरौली के राजद विधायक मो नेमतुल्लाह, सीवान के दरौली के विधायक सत्यदेव राम, गोपालगंज के राजद जिलाध्यक्ष राजेश सिंह कुशवाहा, पूर्व सांसद प्रत्याशी सुरेन्द्र राम सहित 13 लोगों को नामजद किया गया है. जबकि 60 अज्ञात राजद कार्यकर्ताओ के खिलाफ भी हथुआ थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी है.



बगैर अनुमति के धरना पर बैठने को लेकर हुई कार्रवाई: डीएम
डीएम अरशद अजीज ने बताया कि कोरोना महामारी को लेकर देश में लॉक डाउन है. गोपालगंज में कोरोना महामारी के एक सौ से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. इसको लेकर यहाँ भी सख्ती से लॉक डाउन का पालन किया जा रहा है. लेकिन राजद विधायक मो. नेमतुल्लाह, भाकपा माले विधायक सत्यदेव राम सहित 05 दर्जन से ज्यादा लोग बिना अनुमति के हथुआ के रुपन चक गाँव में धरना पर बैठ गए थे.

रुपनचक गाँव में कर रहे थे प्रदर्शन

पुलिस और प्रशासन ने सभी नेताओं को लॉक डाउन के मद्देनजर घर से बाहर नहीं निकलने की सख्त हिदायत दी गयी थी. मना करने के बावजूद ये सभी चोरी चुपके बाइक से और अन्य सवारी से रुपनचक गाँव में पहुचकर धरना प्रदर्शन करने लगे.
इसी मामले में एपेडेमिक एक्ट और अन्य धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कराने के आदेश दिए गए है.

तीन लोगों की हत्या के बाद बना ये माहौल

हथुआ के थाना अध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया कि राजद विधायक सहित 13 नामजद और 05 दर्जन अज्ञात लोगो के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी गई है. इन नेताओ को गिरफ्तार भी किया जाएगा. दरअसल बीते रविवार को हथुआ के रुपनचक गाँव में राजद नेता जेपी यादव के घर पर ताबड़तोड़ फायरिंग की गयी थी. इस फायरिंग में जेपी यादव के अलावा उसके भाई और माँ बाप को भी गोली थी. जिसमे 03 लोगो की मौत हो गयी.

पप्पू पाण्डेय की गिरफ्तारी की तेजस्वी यादव ने की मांग

इस मामले में जदयू विधायक पप्पू पाण्डेय , उनके भाई सतीश पाण्डेय, भतीजे मुकेश पाण्डेय को नामजद किया गया था. सतीश और मुकेश की गिरफ़्तारी हो गयी है. लेकिन राजद नेता तेजस्वी यादव विधायक पप्पू पाण्डेय की गिरफ़्तारी की मांग कर रहे हैं. इसी को लेकर उन्हें कल पटना से गोपालगंज आना था लेकिन अनुमति नहीं मिलने के कारण वे गोपालगंज नहीं आ सके. उनके आह्वान पर यहाँ राजद विधायक व माले विधायक ने राजद कार्यकर्ताओ के साथ धरना दिया और बुरे फंस गए.

ये भी पढ़ें:  तेजस्वी के बुलावे पर पटना जा रहे MLA-MLC को पुलिस ने रोका, घंटों चला ड्रामा

नालंदा में दहेज के चलते 48 घंटे के अंदर दो महिलाओं की हत्या, ससुराली फरार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज