Home /News /bihar /

बाढ़ नियंत्रण विभाग पर अनियमितता का आरोप, ग्रामीणों ने जमकर किया हंगामा

बाढ़ नियंत्रण विभाग पर अनियमितता का आरोप, ग्रामीणों ने जमकर किया हंगामा

गोपालगंज में कटाव निरोधी कार्य में अनियमितता का आरोप लगाते हुए आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया। वहीं लोगों के हंगामे की वजह से बांध निर्माण कार्य में लगे सैकडों मजदूरों ने काम छोड़ दिया और वहां से भाग खड़े हुए। लोगों ने जादोपुर के जगरीटोला बांध के समीप जमकर बवाल किया। आक्रोशित ग्रामीणों ने बांध निर्माण में लगी एजेंसी पर अनियमितता का आरोप लगाया है।

गोपालगंज में कटाव निरोधी कार्य में अनियमितता का आरोप लगाते हुए आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया। वहीं लोगों के हंगामे की वजह से बांध निर्माण कार्य में लगे सैकडों मजदूरों ने काम छोड़ दिया और वहां से भाग खड़े हुए। लोगों ने जादोपुर के जगरीटोला बांध के समीप जमकर बवाल किया। आक्रोशित ग्रामीणों ने बांध निर्माण में लगी एजेंसी पर अनियमितता का आरोप लगाया है।

गोपालगंज में कटाव निरोधी कार्य में अनियमितता का आरोप लगाते हुए आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया। वहीं लोगों के हंगामे की वजह से बांध निर्माण कार्य में लगे सैकडों मजदूरों ने काम छोड़ दिया और वहां से भाग खड़े हुए। लोगों ने जादोपुर के जगरीटोला बांध के समीप जमकर बवाल किया। आक्रोशित ग्रामीणों ने बांध निर्माण में लगी एजेंसी पर अनियमितता का आरोप लगाया है।

अधिक पढ़ें ...
गोपालगंज में कटाव निरोधी कार्य में अनियमितता का आरोप लगाते हुए आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया। वहीं लोगों के हंगामे की वजह से बांध निर्माण कार्य में लगे सैकडों मजदूरों ने काम छोड़ दिया और वहां से भाग खड़े हुए। लोगों ने जादोपुर के जगरीटोला बांध के समीप जमकर बवाल किया। आक्रोशित ग्रामीणों ने बांध निर्माण में लगी एजेंसी पर अनियमितता का आरोप लगाया है।

गोपालगंज सदर प्रखंड के मकसूदपुर खाप, जगरीटोला, मलाही, मसनथाना सहित करीब एक दर्जन गांवों के सैकडों घर गंडक में विलीन हो गए। हजारों एकड़ जमीन गंडक में समाहित हो गया। बावजूद इसके इन गांवों को बचाने के लिए बाढ़ नियंत्रण विभाग द्वारा कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए।

रविवार को सैकडों ग्रामीण जगरीटोला बांध के पास पहुंचकर बांध निर्माण कार्य को रोक दिया और कटाव रोकने के लिए रखे गए मिट्टी से भरे बोरे को नदी में फेंक दिया। लोगों के उग्र प्रदर्शन को देखते हुए काम में लगे सैकडों मजदूर भाग गए। जिससे बांध निर्माण कार्य पूरी तरह से ठप्प हो गया है। आक्रोशित ग्रामीणों ने जिला प्रशासन और बाढ़ नियंत्रण विभाग पर लूटखसोट का आरोप लगाया है।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर